रूस के वैज्ञानिक का बड़ा दावा, बताया 'पानी' से कैसे मर जाएगा 'कोरोना'

रूस के वैज्ञानिक का बड़ा दावा, बताया 'पानी' से कैसे मर जाएगा 'कोरोना'

मॉस्को: कोरोना महामारी ने दुनिया में कहर बरपाया हुआ है। पूरी दुनिया के वैज्ञानिक कोरोना वायरस की वैक्सीन तैयार करने में जुटे हुए हैं। इसी बीच रूस के साइंटिस्ट्स ने बड़ा दावा किया है। रूस के वैज्ञानिकों ने बताया है कि कोरोना महामारी को किस तरह से समाप्त किया जा सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रूस के वैज्ञानिकों का कहना है कि पानी में कोरोना का वायरस पूरी तरह नष्ट हो जाता है।

एक रिसर्च में वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि पानी कोरोना वायरस को 72 घंटों यानी तीन दिन के अंदर तक़रीबन पूरी तरह से नष्ट कर सकता है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, ये अध्ययन स्टेट रिसर्च सेंटर ऑफ वायरोलॉजी एंड बायोटेक्नोलॉजी वेक्टर ने किया है। अध्ययन में बताया गया है कि कोरोना वायरस का रूप स्पष्ट तौर पर पानी के तापमान पर निर्भर करता है। वैज्ञानिकों का दावा है कि 90 प्रतिशत वायरस के कण 24 घंटे में और 99.9 फीसदी कण कमरे के सामान्य तापमान पर रखे जल में नष्ट हो जाते हैं।

वेबसाइट वर्ल्डोमीटर के मुताबिक,  पूरे विश्व में कोरोना वायरस के अब तक 1 करोड़ 74 लाख 66 हजार से अधिक केस रिपोर्ट किए जा चुके  हैं। वहीं इस जानलेवा वायरस की वजह से अब तक 6 लाख 76 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है, जबकि राहत की बात है कि 1 करोड़ 9 लाख 33 हजार से अधिक लोग रिकवर भी हो चुके हैं।

इस खाड़ी देश ने भारतीय नागरिकों के प्रवेश पर लगाई रोक ! लाखों लोगों की नौकरी पर संकट

LIC ने कोरोना क्लेम में दिए 26.74 करोड़ रुपये, कमाई में भी हुआ रिकॉर्डतोड़ इजाफा

भेदभाव का शिकार हुए इरफ़ान के बेटे, कहा- 'मुझे एंटी नेशनलिस्ट बोला तो नाक तोड़ दूंगा...'