लंबी उम्र के लिए रोजाना दौड़ना है जरूरी, धीमी गति से दौड़ने के हैं कई फायदे, जानिए और भी

लंबी उम्र के लिए रोजाना दौड़ना है जरूरी, धीमी गति से दौड़ने के हैं कई फायदे, जानिए और भी
Share:

धीमी गति से दौड़ना फिट और स्वस्थ रहने के लिए सबसे अच्छे व्यायामों में से एक माना जाता है। बहुत से लोग सुबह दौड़ने के लिए निकलते हैं, कुछ तेज़ गति से दौड़ना पसंद करते हैं जबकि अन्य धीमी गति से दौड़ना पसंद करते हैं। इससे यह सवाल उठता है कि कौन सा तरीका बेहतर है। विशेषज्ञों का सुझाव है कि धीमी गति से दौड़ने के भी महत्वपूर्ण लाभ हैं। आइए धीमी गति से दौड़ने के लाभों के बारे में जानें...

धीमी गति से दौड़ना क्यों फायदेमंद है?

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना ​​है कि धीमी गति से दौड़ने से न केवल शारीरिक रूप से बल्कि मानसिक रूप से भी शरीर को लाभ होता है। धीमी गति से दौड़ने से कैलोरी को अधिक आसानी से जलाने में मदद मिलती है, जिससे चोट लगने का जोखिम कम होता है। इसका एक महत्वपूर्ण लाभ यह है कि व्यक्ति धीमी गति से लंबी दूरी तक दौड़ सकता है।

हृदय स्वास्थ्य के लिए उत्तम

विशेषज्ञों के अनुसार, धीमी गति से दौड़ना हृदय स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा है। नियमित रूप से धीमी गति से जॉगिंग करने से हृदय रोगों का खतरा कम होता है। यह हृदय स्वास्थ्य को काफी हद तक बढ़ाता है, जिससे स्वस्थ व्यक्तियों का दिल अच्छी स्थिति में रहता है। इस बारे में डॉक्टर से सलाह लेना उचित है।

धीमी गति से दौड़ने के अन्य लाभ

  • धीमी गति से दौड़ने से उच्च कोलेस्ट्रॉल और मधुमेह का खतरा कम हो सकता है।
  • नियमित रूप से धीमी गति से दौड़ने से रक्तचाप की समस्याओं को कम करने में मदद मिल सकती है। उच्च रक्तचाप के रोगियों को इसे नियंत्रित करने के लिए नियमित रूप से धीमी गति से दौड़ना चाहिए।
  • धीमी गति से दौड़ने से तनाव और चिंता की समस्या भी कम हो सकती है।
  • धीमी गति से दौड़ने से जोड़ों और मांसपेशियों पर कम दबाव पड़ता है, जिससे चोट लगने का खतरा कम हो जाता है।
  • धीमी गति से दौड़ने से समग्र स्वास्थ्य बेहतर होता है। हालांकि, गंभीर बीमारियों से पीड़ित व्यक्तियों को दौड़ने से पहले डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

'वड़ा पाव गर्ल' महीने में कमाती है इतने लाख, चंद्रिका दीक्षित ने अनिल कपूर के सामने खोले अपनी कमाई के सारे राज

'लोगों ने मुझे फ्लॉप एक्टर कहा...', जब महाभारत के 'भीष्म पितामह' को करना पड़ा था संघर्ष

अरमान ने अभिरा का इंतजार करने की कसम खाई, दादी साया ने विद्या को कमजोर मां बताया

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -