संघ ट्वीटर के जरिए करेंगा राम मंदिर निर्माण के मसले को प्रचारित

Feb 09 2016 03:38 PM
संघ ट्वीटर के जरिए करेंगा राम मंदिर निर्माण के मसले को प्रचारित

नई दिल्ली : राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ अब राम मंदिर के मुद्दे को देश भर में प्रचारित करने के लिए 250 सदस्यों की एक टीम बनाएगा। जिसका काम इस मसले का सोशल मीडिया पर प्रचार करना होगा। 20 फरवरी को संघ अपने सदस्यों और कार्यकर्ताओं को लेकर एक ट्रेनिंग सेशन आयोजित करने जा रहा है। इसे राम मंदिर- एक वास्तविकता नाम दिया गया है।

सोशल मीडिया के जानकारा 250 सदस्यों को प्रशिक्षित करेंगे। संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कुछ दिनों पहले कहा था कि राम मंदिर के निर्माण का अभियोजन तेज करने की आवश्यकता है। हांला कि सोशल मीडिया पर एक्टिव होना संघ के लिए कोई नई बात नही है। इस पहले भी आरएसएस असहिष्णुता और धारा 370 के मामले में इस तरह के सेशन कर चुका है।

संघ के एक प्रचारक ने बताया कि हम इस मामले के तथ्यों को उजागर करना चाहते है। इसके जरिए अब तक के अदालत के फैसले और आर्कियोलॉजी सर्वे ऑफ इंडिया के अध्ययनों को ट्वीटर के माध्यम से लोगों तक पहुंचाया जाएगा। साथ ही कुछ मुसलमानों के बयान भी देश तक पहुंचाए जाएंगे।

ट्रेनिंग सेशन का आयोजन करने वालों ने बताया कि जिन कार्यकर्ताओं को लोग ट्वीटर पर बड़ी संख्या में फॉलो करते है, वे ही इसे हैंडल करेंगे। पिछले महीने भागवत ने कहा था कि हमें सतर्कता के साथ योजना बनाने की जरुरत है। हमें जोश और होश के साथ काम करना होगा। इस भाषण के बाद संघ के ऑफिशियल ट्वीटर अकाउंट से इस मसले पर भागवत के कोट भेजे गए थे।