'महंगाई एक राक्षस है, हमें इसे हराना होगा..', RSS ने उठाया बेरोज़गारी का मुद्दा

नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के महासचिव दत्तात्रेय होसबाले ने एक कार्यक्रम के दौरान गरीबी, बेरोजगारी और असमानता का मुद्दा उठाया है। स्वदेशी जागरण मंच के स्वाबलंबी भारत अभियान विषय पर आयोजित किए गए एक वेबिनार को संबोधित करते हुए होसबाले ने गरीबी को एक राक्षस करार दिया है। देश में गरीबी की स्थिति और बेरोजगारी के आंकड़े पेश करते हुए होसबाले ने एक ऐसा माहौल बनाने की अपील की है, जिसमें युवाओं को जॉब मांगने वाला नहीं, बल्कि नौकरी देने वाला बनाया जा सके।

होसबाले ने आगे कहा कि, ‘गरीबी हमारे सामने एक राक्षस की तरह है, हमें इस राक्षस को पराजित करना होगा। अभी भी देश में 20 करोड़ लोग गरीबी रेखा के नीचे हैं। यह हमारे लिए काफी दुख की बात है। देश में 23 करोड़ लोग ऐसे भी हैं जो कि हर दिन 375 रुपए से भी कम कमाते हैं।’ यही नहीं उन्होंने बेरोजगारी के मुद्दे पर कहा कि, ‘देश में 4 करोड़ लोग बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं, वहीं देश में बेरोजगारी की हालिया दर 7।6 फीसद है।’

बता दें कि संघ की तरफ से पिछले एक साल से स्वाबलंबी भारत अभियान चलाया जा रहा है। यह RSS की एक कोशिश है, जिसके माध्यम से  वह आंत्रप्रेन्योरशिप (उद्यमिता) और स्वरोजगार को बढ़ावा दे रहे हैं, ताकि स्थानीय और ग्रामीण आर्थिक स्थिति में सुधार लाया जा सके। संघ ने मार्च में भारतीय प्रतिनिधि सभा के दौरान एक प्रस्ताव पारित किया था। इस प्रस्ताव में RSS ने श्रम प्रधान ‘भारतीय इकोनोमिक मॉडल’ को रखा था। यह अभियान 700 जिलों में चलाया जा रहा है जिसमें संघ के 6 घटक कार्य कर रहे हैं।

2023 में जनता को महंगाई से मिलेगी राहत., RBI को उम्मीद

65 वर्षीय कैदी शाहिर अली ने अपने प्राइवेट पार्ट पर चढ़ा ली अंगूठी, हालत बिगड़ी तो पहुंचा अस्पताल

राम-राम कहने पर आगबबूला हुए सब इंस्पेक्टर सदाकत अली, काट दिया युवक का चालान

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -