नेताजी को लेकर RSS ने उठाए गांधी नेहरू परिवार पर सवाल

नई दिल्ली : नेताजी सुभाषचंद्र बोस की मृत्यु पर आज भी रहस्य बना हुआ है। इस दौरान यह बात अभी भी सवालों में बनी हुई है कि आखिर नेताजी की मृत्यु कैसे हुई थी। यदि मृत्यु हुई तो उनके अंतिम समय से जुड़ी बातें सामने क्यों नहीं आई। यदि नेताजी विमान हादसे के बाद भी जीवित थे तो वे वापस लौटकर सभी के सामने क्यों नहीं आए। इस मामले में पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा दस्तावेज सार्वजनिक करने से काफी जानकारियां सामने आई हैं। अब केंद्र सरकार ने दस्तावेज सार्वजनिक करने की बात की जा रही है। मामले में आरएसएस ने भी कुछ बातें कही है।

जी हां, अपने मुखपत्र मदर आॅफ आॅल कन्सपरन्सी शीर्षक से प्रकाशित किए गए लेख में यह कहा गया है कि विभिन्न तरह की साजिशों से जुड़ी बातों को प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू-गांधी परिवार से जुड़ा हुआ कहा जा रहा है। नेताजी की मौत को लेकर जो रहस्य बना हुआ है उस पर कांग्रेस और नेहरू-गांधी परिवार के सदस्यों को जवाब देना होगा क्योंकि सारे सवाल इनके द्वारा साजिशों की जड़ के साथ जवाब के रूप में सामने आ रहे हैं।

नेहरू और उनके वंशज लोकतंत्र के साथ भारत में सहिष्णुता का दावा कर रहे हैं। नेताजी की मौत से जुड़े रहस्यों की बात को छिपाने के संदेह के साथ परिवार के सदस्यों की जासूसी की जाना बेहद निंदनीय है। आखिर नेताजी की मौत किस तरह से हुई इसकी संभावना जताना सामने आ सकता है।

नेताजी पर शोध किया जाना बेहद जरूरी है। मामले में यह भी कहा गया कि यह बेहद दुखद है जिस व्यक्ति द्वारा स्वतंत्रता के लिए भारतीयों का रक्त मांगा गया वह स्वयं अपनी अंतिम सांस अपनी मातृभूमि पर नहीं ले पाया। उसके परिवार की जासूसी की गई और उन्हीं के सहायकों द्वारा भारत में अपराधी कहा गया। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

मुख्य समाचार

- Sponsored Advert -