पश्चिम बंगाल में हो रही हिंदूत्व की राजनीति!

कोलकाता। भारतीय जनता पार्टी द्वारा जहां हिमाचल प्रदेश, गुजरात राज्य में भगवा परचम लहरा दिया गया है वहीं वह नाॅर्थ ईस्ट को मजबूत करने में लगी है लेकिन इसी बीच जानकारी आई है कि भाजपा हिंदूवादी संगठनों के माध्यम से ममता बनर्जी जो कि वेस्ट बेंगाॅल की मुख्यमंत्री हैं, उनके गढ़ में सेंध लगाने की तैयारी की जा रही है। दरअसल यहां राष्ट्रीय स्वयं सेकव संघ, विश्व हिंदू परिषद सहित अन्य हिंदूवादी संगठनों की सहायता से भाजपा प्रभाव विस्तार में लगी हुई है।यहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी  टीएमसी ब्राह्मण सम्मेलन की तैयारी कर रही है तो आरएसएस व हिंदवादी संगठन अपने वोट बैं को मजबुत करने में लगे हैं। 

भारतीय जनता पार्टी के नेताओं द्वारा कहा गया कि, यदि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के पास मुस्लिमों का तुष्टिकरण करने का सहारा है और यह 30 प्रतिशत मुस्लिम वोट बैंक को बढ़ाता है तो फिर भाजपा 70 प्रतिशत के लिए अपने प्रयास क्यों नहीं कर सकती है। जहां भाजपा हिंदूत्व के मसले पर वोटबैंक बनाने में और मुस्लिम व अन्य वोटबैंक को साधने में लगी है वहीं तृणमूल कांग्रेस को हिंदूओं की याद आ गई है।

टीएमसी अब ग्रामीण इलाकों में बाय बांटने की तैयारी कर रही है। हालांकि अभी तक उसने ऐसा किया नहीं है। मगर योजना प्रारंभ करने को लेकर टीएमसी नेताओं के बीच चर्चा हुई थी। हिंदूओं को साधने के मामले में बीरभूम जिले के तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष और कद्दावर नेता अनुब्रत मंडल ने बताया कि टीएमसी मौलवी सम्मेलन के बाद ब्राह्मण सम्मेलन करवाने की योजना बना रही है। हालांकि इसमें शीर्ष नेतृत्व की स्वीकृति को आवश्यक माना जा रहा है।

मायावती ने किया यूपीकोका का विरोध

बीजेपी को लेकर सपा सांसद के बेतुके बोल

राहुल ने लिया हॉलीवुड मूवी का मजा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -