शंघम् शरणम् गच्छामि, सरकार की मुश्किलें आसान करेगा संघ

नई दिल्ली : दिल्ली में एक बार फिर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की महत्वपूर्ण बैठक का आयोजन किया जाएगा। इस बैठक में तीन दिनों तक आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रमों की रूपरेखा पर चर्चा की गई। माना जा रहा है कि इस बैठक में बिहार के ही साथ देशभर में भारतीय जनता पार्टी संगठन को मजबूत करने का चिंतन किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत भाजपा के कई वरिष्ठ नेता इस चिंतन बैठक में शामिल हो सकते है।

मंच पर एक साथ खाकी हाफपेंट, व्हाईट शर्ट और डाॅक्टर केशव बलिराम हेडगेवार की कैप लगाए बुजुर्ग जब एकसाथ ध्वज प्रणाम करेंगे तो हर कहीं युवाओं सा उत्साह उमड़ेगा। इस दौरान आरएसएस द्वारा अपने अनुषंगिक संगठनों के साथ वैचारिक मंथन किया जाएगा। इस दौरान कहा जा रहा है कि देशभर में इस तरह का वातावरण निर्मित हो रहा है जिससे भाजपा संगठन मजबूत हो रहा है। इस संगठन को और बल प्रदान करने के लिए किस तरह से कार्य किए जाऐं इस पर विचार होगा।

मिली जानकारी के अनुसार भाजपा के पदाधिकारियों के साथ आरएसएस के वरिष्ठ पदाधिकारियों द्वारा सरकार के संचालन में आ रही मुश्किलों पर चर्चा की जाएगी। इस दौरान धार्मिक जनगणना, आरक्षण, वन रैंक वन पेंशन के साथ दलित-आदिवासियों के लिए किए गए कार्यों को लेकर भी चर्चा की जाएगी। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -