रोते हुए को आज हंसाए

िसी रोते हुए को आज हंसाए
किसी की उलझन आज सुलझाएं
करेँ तैयारी एक अनोखे सफर की
चलो आज खुशियाँ बाँट आएं।
आओ किसी की आँखों का
सपना बुन आएं
किसी की राहोँ से हम आज
सारे कांटे चुन आएं 
करेँ तैयारी एक अनोखे सफर की
चलो आज खुशियाँ बाँट आएं।
किसी के दिल का दर्द कम कर दें
दिल का जख्मों को आज भर दें
फैला दो जो तुम दुनिया में
अपने प्रेम की खुशबू "प्राची"
ये दुनिया एक महकती,
बगिया बन जाए...।।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -