रोता है दिल

रोता है दिल

प्यार में बेवफाई उसने क्यों की

ए मेरे सनम तूने मुझे किसकी सजा दी

माना की अब हम तेरे दिल में नहीं लेकिन

आज भी दिल रोता है तेरी याद आने के बाद |

तेरी यादो को हम छुपा नहीं सकते|

तेरे चेहरे की हसी भुला नहीं सकते |

हद में रहता तो कब का उसे भुला देता|

लेकिन इस दिल को में समझा नहीं सकता|