नहीं बदलूँगा अपने क्रिकेट खेलने का स्टाइल : रोहित शर्मा

कोलंबो : भारतीय बल्लेबाज रोहित शर्मा ने कहा है कि वह अपनी निजी शैली के अनुरूप ही खेलते रहेंगे तथा उसमें कोई बदलाव नहीं करेंगे। रोहित ने साथ ही अपने प्रदर्शन में सुधार के लिए कठिन मेहनत करने का वादा भी किया। रोहित ने श्रीलंका के साथ संपन्न हुई तीन मैचों की श्रृंखला में छह पारियों में 202 रन बनाए। भारत यह श्रृंखला 2-1 से जीतने में सफल रहा।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की आधिकारिक वेबसाइट पर बुधवार को रोहित के हवाले से कहा गया है, "मुझे खुद से विदेशी धरती पर जरा भी उम्मीद नहीं रहती। विदेशी धरती पर जो भी होता है वह मेरे लिए मददगार नहीं होता। मेरे खेल में सुधार लाने में मदद सिर्फ मेरी मेहनत ही ला सकती है। अभ्यास के दौरान मैं जैसा खेलता हूं मुझे वही खेलते रहना होगा और बेहतर खिलाड़ी बनने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी।"

रोहित ने कहा, "जब तक मैं अपने खेल का लुत्फ उठाता रहूंगा कोई भी मुझे रोक नहीं सकता। टीम के साथ मैं काफी लुत्फ उठा रहा हूं, जीत का लुत्फ उठा रहा हूं और बेहद सकारात्मक हूं।" रोहित ने कहा कि टीम प्रबंधन टेस्ट, एकदिवसीय और टी-20 में जहां भी कहेगी वह उस क्रम पर बल्लेबाजी करने के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा, "कप्तान और टीम प्रबंधन क्या चाहते हैं, यह काफी अहम है। कहीं भी ऐसा नहीं लिखा है कि चौथे क्रम पर सिर्फ यही खिलाड़ी खेल सकता है या तीसरे क्रम पर सिर्फ अमुक खिलाड़ी। अगर आपकी समझ अच्छी है तो बल्लेबाज के तौर पर आप हमेशा जितना हो सके ऊपरी क्रम में खेलना चाहेंगे, ताकि आप अधिक से अधिक गेंदें खेल सकें और अधिक से अधिक रन बना सकें।"

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -