राजद नेता सिद्दीक़ी बोले, भारत माता की जय कहने में कोई दिक्कत नहीं, लेकिन वन्दे मातरम्...

राजद नेता सिद्दीक़ी बोले, भारत माता की जय कहने में कोई दिक्कत नहीं, लेकिन वन्दे मातरम्...

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के दिग्गज नेता और बिहार के पूर्व मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी ने रविवार को यह कहकर विवाद पैदा कर दिया कि उन्हें 'भारत माता की जय' बोलने में कोई समस्या नहीं है, किन्तु राष्ट्रगीत वंदे मातरम गाना उनकी आस्था के विरुद्ध है. अब्दुल बारी सिद्दीकी ने कहा है कि, 'जो एकेश्वर में भरोसा रखता है वह कभी भी 'वंदे मातरम' नहीं गाएगा.' 

हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें 'भारत माता की जय' कहने में कोई दिक्कत नहीं है. दरभंगा लोकसभा सीट से चुनावी संग्राम में उतरे सिद्दीकी ने पीएम मोदी को महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की सार्वजनिक रूप से कड़ी निंदा करने का चैलेंज भी दिया. उन्होंने गोडसे को देश का 'पहला आतंकवादी' बताया है. सिद्दीक़ी ने कहा गोडसे के आरएसएस के साथ कथित संबंधों के बारे में कहा कि, 'बापू का हत्यारा नाथूराम गोडसे देश का प्रथम आतंकवादी था. क्या पीएम मोदी सार्वजनिक रूप से गोडसे की निंदा कर सकेंगे?'

इस बीच राजद में मची खींचतान के बीच पार्टी ने लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव के बागी तेवर और 'पार्टी विरोधी गतिविधियों' का मसला उठाते हुए उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का फैसला लिया है. पार्टी नेताओं ने रविवार को यह बात कही है. पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप ने गत माह पार्टी में अपनी उपेक्षा किए जाने की बात कहते हुए लालू-राबड़ी मोर्चा (लारामो) गठित किया गया था और शिवहर लोकसभा सीट से राजद प्रत्याशी सैयद फैसल अली के विरुद्ध लारामो की तरफ से अंगेश कुमार सिंह को चुनावी संग्राम में उतार दिया है.

खबरें और भी:-

दिग्गी राजा का हिंदुत्व पर बड़ा बयान, कहा- हिन्दू कभी आतंकी नहीं हो सकता

दिल्ली की आधी सीटों पर बीजेपी ने घोषित किये प्रत्याशी, बची सीटों पर आज घोषणा संभव

लोकसभा चुनाव: कांग्रेस से गठबंधन की आस टूटी, आज 'आप' उम्मीदवार भरेंगे नामांकन