रियो ओलंपिक : नीदरलैंड को 3-1 से रौंदकर बेल्जियम ने बनाई पुरुष हॉकी के फाइनल में जगह

ओलिंपिक में आज पुरुष हॉकी का दूसरा सेमीफाइनल खेल गया. जिसमे बेल्जियम और नीदरलैंड की टीम आमने-सामने थी. बेल्जियम ने मुकाबला 3-1 से अपने नाम गोल्ड के लिए खेले जाने वाले फाइनल मुकाबले में अपनी जगह बनाई. जहाँ उसका मुकाबला शुक्रवार को अर्जेंटीना से होगा. 

दुसरे सेमीफाइनल की शुरुवात में दोनों टीमो की तरफ से शानदार खेल दर्शाया गया था. जिस वजह से मैच के शुरुवाती 24 मिनट तक दोनों टीम गोल नहीं कर सकी थी. जिसके बाद बेल्जियम के जेरोम ट्रूयेंस ने मैच के 24 मिनट में गोल कर अपनी टीम को बढ़त दिलाई. नीदरलैंड इस गोल से उबार भी नहीं पाया था की बेल्जियम के जॉन-जॉन दोहमें ने मैच के 28वे मिनट में दूसरा गोल कर अपनी टीम की बढ़त को दोगुना कर दिया. 

दो गोल खाने के बाद नीदरलैंड की टीम ने इस दवाब ने निकलने की कोशिश की. नेदरलैंड के मिंक वैन डेर वार्डन ने 28 मिनट में अपनी टीम की तरफ से पहला गोल कर मुकाबले में अपनी टीम की स्थिति मजबूत करने की कोशिश की. लेकिन यह काफी नहीं रही. इस गोल के बाद नीदरलैंड की टीम अपने गोल की संख्या में कोई इजाफा नहीं कर सकी. वही मैच के 45वे मिनट में फ्लोरेंट वैन अबेल ने बेल्जियम की तरफ से तीसरा गोल कर मैच को पूरी तरह से अपनी टीम के पक्ष में कर दिया. 

इस गोल के बाद बेल्जियम मुकाबले में 3-1 से आगे हो गया था. यह बढ़त अंत तक कायम रही. जिस वजह से दूसरा सेमीफाइनल बेल्जियम ने अपने नाम कर फाइनल में अपनी जगह पक्की की. अब वह शुक्रवार को अर्जेंटीना के सामने गोल्ड के लिए अपनी चुनोती पेश करेगा. जबकि नीदरलैंड गुरुवार को जर्मनी से ब्रोंज के लिए मुकाबला करेगा.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -