पर्यावरण के लिये खतरा बनी धान की पराली

नई दिल्ली : किसानों द्वारा खेतों में जलाई जाने वाली धान की पराली से पर्यावरण को खतरा उत्पन्न हो गया है। पराली न जलाने के लिये दिल्ली हाईकोर्ट ने आदेश जारी किये थे, बावजूद इसके कतिपय किसान पराली जलाने से बाज नहीं आ रहे है। विशेषकर पंजाब और हरियाणा के किसानों द्वारा खेतों में धान की पराली जलाने के कारण दिल्ली में प्रदूषण ओर अधिक फैलने लगा है।

पर्यावरण को पराली से होने वाले खतरे को देखतेे हुये कोर्ट ने पराली न जलाने के आदेश दिये थे, परंतु लगता है कि इसका असर कतिपय किसानों पर नहीं हुआ है और वे धान की पराली जलाने में मशगूल है। बताया गया है कि नासा ने भी पराली जलाये जाने के कारण राजधानी में प्रदूषण ओर अधिक बढ़ने की बात कही है।

जानकारी मिली है कि नासा के वेब फायार मैपर में लाल रंग के बिंदुओं को दिखाते हुये धान की पराली को जलाये जाने वाले स्थानों को चिन्ह्ति किया गया है। इससे यह सामने आया है कि बीते दस दिनों के भीतर पराली जलाने का काम बहुत अधिक किया गया है। इधर दिल्ली के पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन का कहना है कि उनकी सरकार पर्यावरण को नुकसान नहीं होने देगी और इसके लिये हर संभव कदम उठाये जा रहे है।

रेलवे-DMRC को अब नहीं लेना पड़ेगी पर्यावरणीय मंजूरी

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -