जीएसटी लागू होने के बाद पहली बार मार्च में हुआ रिकॉर्ड कलेक्शन

नई दिल्ली : देश में जब से GST लागु हुआ तब से लेकर आज तक इसको लेकर कई प्रकार के सवाल खड़े हो रहे हैं। GST को लागु करने के बाद मोदी सरकार इसको देश के लिए बहुत अच्छा बता रही है तो दूसरी तरफ GST को देश के लिए अच्छा नहीं है। GST को लेकर जो आंकड़े सामने आ रहे है उनको देखकर लग रहा है की इसके लागू होने के बाद पहली बार मार्च में बहुत ज्यादा कलेक्शन हुआ है। 

बाजार खुलते ही सेंसक्स में नजर आया शानदार उछाल

इस बार ऐसा रहा कलेक्शन 

सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है की GST के बाद पहली बार मार्च में इसका कलेक्शन रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गया है। 31 मार्च को वित्तीय वर्ष का अंतिम दिन था और इस दिन गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स कलेक्‍शन बढ़कर लगभग 1 लाख करोड़ रुपये के रिकार्ड स्तर पर पहुंच गया है। खबरों के अनुसार बताया जा रहा है की देश में जीएसटी के लागू होने के बाद यह अब तक की सबसे ज्यादा वसूली है। अगर पिछले साल के कलेक्शन की बात करें तो इस बार GST कलेक्शन में लगभग 15 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है। 

सोमवार को भी पेट्रोल और डीजल की कीमतों ने नहीं दी राहत

इस बार हासिल हुआ इतना रेवेन्‍यू

जानकारी के मुताबिक आकंड़ो के हिसाब से पिछले साल मार्च में जीएसटी कलेक्‍शन लगभग 92,000 करोड़ रुपये रहा था। अब तक मिले आकंड़ो के हिसाब से मार्च 2019 में कुल 1,06,577 करोड़ रुपये का जीएसटी रेवेन्‍यू हासिल हो चुका है। इसमें केंद्रीय जीएसटी (सीजीएसटी) कलेक्‍शन लगभग 20,000 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी (एसजीएसटी) 27,500 करोड़ रुपये और एकीकृत जीएसटी (आईजीएसटी) 50,400 करोड़ रुपये रहा है। 

आज से हुई नवीन वित्तीय वर्ष की शुरुआत, इन नए नियमों से मिलेगी राहत

माँग बढ़ने से चमका सोना तो चाँदी में भी नजर आया जोरदार उछाल

डीजल के दामों में 8 पैसे प्रति लीटर की कमी तो पेट्रोल में नजर आई स्थिरता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -