ED की दायर चार्जशीट में बड़ा खुलासा- 'अनिल देशमुख के निर्देश पर वाजे ने की करोड़ों की वसूली...'

मुंबई: महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के विरुद्ध प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने कथित भ्रष्टाचार तथा जबरन वसूली केस में चार्जशीट दाखिल कर दी है. चार्जशीट में बताया गया है कि महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री ने एक जन प्रतिनिधि के तौर पर अपने पद का दुरुपयोग किया. चार्जशीट के मुताबिक, 16 वर्ष के सस्पेंशन के पश्चात् सचिन वाजे की बहाली में देशमुख ने अहम किरदार निभाया था. वाजे को सिर्फ सहायक पुलिस निरीक्षक होने की वजह से मुंबई पुलिस की अपराध खुफिया इकाई (CIU) का प्रमुख बनाया गया था. उन्हें कई बड़ी तहकीकात का जिम्मा सौंपा गया था जिससे उनके माध्यम से जबरन वसूली की जा सके. प्रवर्तन निदेशालय की तहकीकात से यह भी पता चलता है कि देशमुख कई मामलों की ब्रीफिंग तथा आगे के निर्देश देने के लिए नियमित तौर पर वाजे को कॉल करते थे. 

वही प्रवर्तन निदेशालय की तहकीकात में खुलासा हुआ है कि देशमुख ने सचिन वाजे को पूरे मुंबई में 1750 बार तथा रेस्तरां से पैसे वसूलने का निर्देश दिया था. देशमुख के निर्देश पश्चात् वाजे बार मालिकों को परेशान करता था तथा कोरोना महामारी में बार मालिकों को 3-3 लाख रुपए देने का दबाव बना रहा था. वाजे ने दिसंबर 2020 से फरवरी 2021 तक ऑर्केस्ट्रा बार मालिकों से 4.70 करोड़ रुपए जुटाए. 

देशमुख के पर्सनल सेक्रेटरी कुंदन शिंदे बहुत पुराने तथा भरोसेमंद शख्स थे, जिन्होंने देशमुख की तरफ से सचिन वाजे से 4.70 करोड़ नकद जुटाने में अहम किरदार निभाया था. वाजे ने प्रवर्तन निदेशालय को दिए गए बयान में स्वीकार किया है तथा कहा कि उन्होंने देशमुख के निर्देश पर शिंदे को नकद रकम सौंपी थी. शिंदे श्री साईं शिक्षण संस्था के सदस्य हैं, जहां वसूली की राशि रखी गई थी. प्रवर्तन निदेशालय मामले के अपराधियों में से एक सूर्यकांत पलांडे, जो देशमुख के पर्सनल सेक्रेटरी के तौर पर काम करता था, अनिल देशमुख के निर्देश पर पुलिस अफसरों की ट्रांसफर पोस्टिंग, ऑर्केस्ट्रा बार से वसूली में अहम किरदार निभाया था. जानकारी के अनुसार, पलांडे ने मनी लॉन्ड्रिंग में देशमुख की सहायता की. इसकी पुष्टि उन पुलिस अफसरों ने भी की, जिन्हें देशमुख के ऑफिशियल आवास ज्ञानेश्वरी में बैठक के लिए बुलाया जाता था.

गेनब्रिज एलपीजीए टूर्नामेंट में अदिति का शानदार प्रदर्शन, तीसरे नंबर पर बनाया स्थान

भारत को अपने बजट में बुनियादी ढांचा खर्च बढ़ाने की उम्मीद है

मेघालय के मुख्यमंत्री ने मेघालय को टॉप-10 राज्य बनाने का संकल्प लिया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -