रेस्टोरेंट और होटल की सरकार से मांग, शराब की होम डिलीवरी करने की अनुमति दें

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के कहर के चलते देश में जारी लॉकडाउन के बीच गृहमंत्रालय ने दुकानों को शराब बेचने की इजाजत दी है. इस बीच देशभर के होटलों और रेस्टोरेंट ने सरकार से ऑनलाइन शराब डिलीवरी करने की इजाजत मांगी है. रेस्टोरेंट्स और होटलों ने राज्य सरकारों से कहा है कि उन्हें शराब के स्टॉक को बेचने की इजाजत दी जाए.

दरअसल, लॉकडाउन के कारण रेस्टोरेंट्स और होटलों के पास लगभग 3,000 करोड़ रुपये की शराब का स्टॉक है. भारतीय राष्ट्रीय रेस्तरां संघ यानि NRAI के अध्यक्ष अनुराग कटरियार ने कहा कि हम इस वक़्त भारी आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं. हमारे पास एक ओर महंगी शराब का स्टॉक जमा है, वहीं हमारे समक्ष नकदी का भी संकट खड़ा हो गया है. कटरियार ने कहा कि वह तमाम राज्य सरकारों से आग्रह करते हैं कि उन्हें शराब के जमा स्टॉक को बेचने की इजाजत दी जाए.

उन्होंने बताया कि होम डिलिवरी मॉडल से वह स्टॉक में मौजूद शराब बेच सकते हैं. इससे उन्हें अपना स्टॉक निकालने में सहायता मिलेगी और कुछ राशी भी जुटा सकेंगे. जिससे लोगों की जरूरतें पूरी हो सकें. उन्होंने कहा कि साथ ही इस मॉडल के माध्यम हम सामाजिक दूरी के दिशानिर्देशों का भी अनुपालन कर सकेंगे. कटरियार ने कहा कि हमें पता है कि इसके लिए कुछ कानूनों में संशोधन की जरूरत होगी. लेकिन मुझे विश्वास है कि मौजूदा असाधारण हालात देखते हुए यह कदम उठाया जाएगा.

एयरलाइन्स पर भी कोरोना की मार, अब एयर इंडिया के पायलट्स में फैला संक्रमण

आंध्र प्रदेश : राज्य में 50 नए मामले आए सामने, अब तक इतने लोग हुए कोरोना संक्रमित

सिंधिया पर हमलावर हुए दिग्विजय, राहत सामग्री वितरण पर बोली यह बात

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -