इन्हे भी मिल सकता है सातवे वेतनमान का लाभ

नई दिल्ली : सातवें वेतनमान की सिफारिशों को लेकर बुधवार को दिल्ली में हुई डॉक्टरों की हड़ताल के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्पष्ट कर दिया है कि सिफारिशों को लागू कराने के लिए कोई विशेष आदेश जारी नहीं हुआ है। क्योकि डॉ. राम मनोहर लोहिया और सफदरजंग अस्पताल ने इसे जूनियर और सीनियर रेजीडेंट के लिए लागू किया है। इसलिए केंद्रीय विवि के मेडिकल कॉलेजों में यह नियम लागू किया जा सकता है।  

लंबे समय से कर रहे थे मांग
जानकारी के लिए बता दें केंद्रीय स्वास्थ्य सेवाओं के महानिदेशक कार्यालय से ये पत्र एचआरडी मंत्रालय की निदेशक डॉ. रेणुका मिश्रा के सवाल के जवाब में भेजा गया है। बहरहाल, फेडरेशन ऑफ रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष कि माने तो लंबे समय से रेजीडेंट डॉक्टर सातवां वेतन आयोग लागू करने की मांग कर रहे थे। दिल्ली में जहां बार-बार हड़ताल हो चुकी है।

अब से कुछ माह पहले ही अलीगढ़ मुस्लिम विवि के रेजीडेंट डॉक्टरों ने भूख हड़ताल की थी। वही उन्होंने मंत्रालय के पत्र के बारे में कहा है कि अब बनारस हिंदू विवि, अलीगढ़ मुस्लिम विवि, जामिया हमदर्द और दिल्ली स्थित यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ मेडिकल साइंसेज के रेजीडेंट डॉक्टरों को सातवें वेतन आयोग का लाभ मिल सकेगा।

अब इस शहर में कूड़े से बनाई जाएगी बिजली

प्रयागराज कुंभ की रौनक देखने संगम तट पर जुटेंगे 70 देशों के राजनयिक

इस कारण यंहा अब भी जारी है पुलिस सर्चिंग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -