वैज्ञानिकों को मिली बड़ी उपलब्धि, अब मंगल ग्रह पर भी बच्चे पैदा कर सकेंगे मनुष्य

दुनिया भर से आए दिन कई तरह के मामले सामने आते रहते है इस बीच पृथ्वी के बाहर जिंदगी को लेकर विश्वभर के वैज्ञानिक दिन रात एक कर अनुसंधान कर रहे हैं। दूसरे ग्रहों पर जिंदगी की खोज में वैज्ञानिकों को बड़ी कामयाबी प्राप्त हुई है। जापान के वैज्ञानिकों ने वो करिश्मा कर दिखाया है, जिससे अब पृथ्वी से बाहर बच्चे पैदा करने की आशंका को नई उम्मीद को बल प्राप्त हो गया है। 

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, वैज्ञानिकों द्वारा जब अंतरिक्ष में तकरीबन 6 वर्ष तक रखे गए चूहों के स्पर्म को धरती पर वापस लाया गया, तो उससे फिर से स्वस्थ्य चूहे पैदा हुए। वही इस अध्ययन के साथ ही कुछ एक्सपर्ट्स ने अब दावा किया है कि लाल ग्रह मतलब मंगल पर भी इंसान बच्चे पैदा कर सकता है। कहा जाता है कि रेडिएशन के कारण डीएनए खराब हो सकते हैं तथा प्रजनन की क्षमता कम हो सकती है। मगर नए इस्तेमाल ने इस धारणा को बदल दिया है। 

दरअसल वैज्ञानिकों द्वारा चूहों पर किए गए इस्तेमाल में उनके स्पर्म को फ्रीज करके लगभग 6 वर्षों तक हाई रेडिएशन वाले इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में रखा गया था। वही अब इन स्पर्म को इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन से वापस लाया गया। इन स्पर्म से स्पेस रैट का जन्म हुआ। ये चूहे बिल्कुल ठीक थे। उनमें किसी प्रकार की कोई जेनेटिक कमी नहीं देखी गई। स्पेस स्टेशन पर चूहे के स्पर्म को 5 वर्ष 10 माह के लिए माइनस 95 डिग्री के तापमान पर फ्रीज किया गया था। जापानी एक्पर्ट्स की इस अध्ययन को साइंस अडवांस में शुक्रवार को पब्लिश किया गया।

जमीन के नीचे दबा मिला 1000 साल पुराना अंडा, सफाई के दौरान हुए टुकड़े

इस यूनिवर्सिटी ने भर्ती के लिए दिया लड़कियों संग रहने का ऑफर, मचा खूब हंगामा

OMG: एक-दो नहीं, इस महिला ने एक साथ पैदा किए 10 बच्चे, बन गया वर्ल्ड रिकॉर्ड

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -