84 घंटे चला रेस्क्यू, फिर भी नहीं बच पाया 8 वर्षीय मासूम

बैतूल: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बैतूल (Betul) में बोरवेल में गिरे 8 वर्षीय तन्मय की मौत हो गई है। 84 घंटे तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन के पश्चात् शनिवार प्रातः 6 बजे तन्मय को बोरवेल से बाहर निकाला गया था। मौके पर उपस्थित मेडिकल टीम ने जांच के पश्चात् तन्मय को मृत घोषित कर दिया। मौत की पुष्टि जनसंपर्क अफसर एसके तिवारी ने की। बेटे की मौत के पश्चात् परिवार में कोहराम मच गया है। अब शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। तत्पश्चात, शव परिवार को सौंप दिया जाएगा।

बता दें मंगलवार की शाम पांच बजे 8 वर्षीय तन्मय दोस्तों संग लुका-छुपी खेलते-खेलते 400 फीट गहरे बोरवेल में जा गिरा था। घटना के बाद से NDRF, SDERF, पुलिस, प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग, पीएचई विभाग समेत 250 से अधिक लोग मांडवी गांव में रेस्क्यू में जुटे हुए थे। 400 फीट गहरा बोरवेल नानक चौहान नाम के किसान के खेत पर था। दो वर्षों से बोरवेल बंद था। जब तन्मय उसमें गिरा था, उस समय वह 55 फीट की गहराई पर फंस गया था। रेस्क्यू के चलते रस्सी में फंदा (वर्टिकल लिफ्टिंग) के तन्मय को निकालने की कोशिश की गई थी, मगर कुछ ऊपर आने के बाद कोशिश नाकाम हो गई थी तथा तन्मय 38 फीट की गहराई पर अटक गया था।

घटना की खबर प्राप्त होने के बाद रेस्क्यू के लिए बोरवेल से लगभग 30 फीट की दूरी पर बराबर गड्ढे की खुदाई आरम्भ की गई थी। आरम्भ में 46 फीट तक खुदाई करने के पश्चात् 10 फीट (आड़े में ) होरिजेंटल खुदाई की गई थी। लेकिन, खुदाई के चलते पानी और कठोर चट्टानों की वजह से रेस्क्यू में बार-बार बाधा आती रही। हर बार परशानियों को पार करके दोबारा ऑपरेशन आरम्भ किया गया था, मगर आखिर में तन्मय को नहीं बचाया जा सका। घटना के पश्चात् से पुलिस एवं प्रशासन के आला अफसरों समेत रेस्क्यू टीम भी मौके पर डटी रही थी। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी निरंतर अफसरों के संपर्क में बने हुए थे।

टैक्सी में बैठने वाले सावधान, जरूर पढ़ लें ये खबर

ठाणे में सरेआम हुई युवक की हत्या, परिवार में मचा कोहराम

दिसंबर से लेकर जनवरी तक घूमने के लिए बेस्ट और सबसे सस्ती है ये जगह

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -