कोरोना के साथ अब बागवानों पर पर पड़ी मौसम की मार

शिमला: एक तरफ देश में बढ़ता जा रहा कोरोना का डर और दूसरी तरफ लगातार बदल रहा मौसम का मिज़ाज़, आज हर किसी के लिए परेशानी का कारण बनता जा रह है. वहीं प्रदेश में 30 हजार बागवानों पर मौसम की मार पड़ी है. प्रदेश सरकार के पास विभिन्न जिलों से फलों को हुए नुकसान की विस्तृत रिपोर्ट मिली है. वहीं अभी तक के आंकड़ों के अनुसार प्रदेश के पांच जिलों के बागवानों की फसलें बारिश और ओलों ने तबाह कर दी हैं. 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जिला शिमला, सिरमौर, मंडी, कुल्लू और हमीरपुर के बागवानों को फसली नुकसान हुआ है. बागवानों को गुठलीदार फलों खासकर चेरी, बादाम, खुमानी, पलम, आड़ू फलों को नुकसान पहुंचा है.राज्य मुख्यालय पहुंची बागवानी क्षेत्र की क्षति रिपोर्ट के अनुसार बारिश और ओलों से प्रदेश में कुल 13,600. हेक्टेयर जमीन में फलों को नुकसान हुआ है. 

वहीं इस बात का पता चला है कि प्रदेश के पांच जिलों में कुल  इसमें से 30.11 करोड़ की फसलें खराब हुई हैं. इन जिलों में 22,753 मध्यम श्रेणी, 2736 लघु और 2493 अन्य श्रेणी के बागवानों को फसली नुकसान होने की रिपोर्ट है. प्रदेश के कुल  29,982 बागवानों की फसलों को भारी बारिश और ओलो से नुकसान पहुंचा है. 

लॉकडाउन के पहले ही घर लौट गई थी महिला नर्स, अब पॉजिटिव आई कोरोना रिपोर्ट

कोरोना से हुई मौतों का होगा ऑडिट, मौत का मूल कारण पता लगाएगा भोपाल प्रशासन

यूपी में मौसम ने ली करवट, कई स्थानों पर हुई बारिश, गिरे ओले

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -