MP: स्वतंत्रता दिवस पर पांच महिलाओं सहित रिहा होंगे 339 कैदी

भोपाल: मध्यप्रदेश सरकार स्वतंत्रता दिवस के दिन विभिन्न जेलों से पांच महिलाओं सहित 339 कैदियों को रिहा करने वाली है। हाल ही में मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस बारे में जानकारी दी है। उन्होंने यह जानकारी विधानसभा में दी है। इस दौरान उन्होंने कहा, 'अच्छे आचरण के साथ-साथ निर्धारित मापदंडों को ध्यान में रखते हुए कैदियों को साल में 15 अगस्त को रिहा किया जाता है।' इसी के साथ नरोत्तम मिश्रा ने यह भी कहा, 'इन कैदियों ने अपनी सजा के 14 से 20 साल पूरे कर लिए हैं और इनकी बाकी की सजा को माफ किया जा रहा है। कैदियों ने अपने कार्यकाल के दौरान जीवन कौशल सीखा है। मुझे उम्मीद है कि रिहा होने के बाद वे समाज में खुद को फिर से स्थापित करने में सक्षम होंगे।'

इसी के साथ गृहमंत्री ने बताया कि रिहा होने वाले कैदियों में से 36 कैदी भोपाल, 28 इंदौर और बाकी अन्य जिलों के हैं। आप सभी को हम यह भी बता दें कि इस बार 15 अगस्त को देश अपनी आजादी का 74वीं वर्षगांठ मनाएगा। ऐसे में अभी से पूरे देश में स्वतंत्रता दिवस को लेकर तैयारियां जोरो-शोरों से की जा रही हैं। बात करें मध्य प्रदेश की तो यहाँ पूरे राज्य में स्वतंत्रता दिवस को लेकर तैयारियां की जा रही हैं। जी दरअसल यहां 15 अगस्त को होने वाले कार्यक्रम में स्कूली बच्चों को समारोह में शामिल होने की अनुमति नहीं दी गई है।

इसी के साथ ही इस बार स्वतंत्रता सेनानियों और कारगिल में शहीद सैनिकों के परिवारों के घर पहुंचकर डीएम उनको सम्मानित करेंगे। जी दरअसल मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार का यह सख्त निर्देश है कि आयोजित कार्यक्रमों में कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन हो। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग ने प्रदेश के सभी कमिश्नर-कलेक्टरों को निर्देश भी जारी कर दिए हैं। आने वाले 15 अगस्त को सीएम शिवराज सिंह चौहान सुबह 9 बजे सबसे पहले शौर्य स्मारक पहुंचेंगे और देश के शहीदों को पुष्प अर्पित करेंगे।

यूपी में 18 मुस्लिमों में हिन्दू धर्म में की घर वापसी, बोले- गलती से इस्लाम अपना लिया था..

एंटीबॉडी का पता लगाने के लिए पूरे राज्य में विशेष सीरो सर्वे करना जरूरी’- डॉ शशांक जोशी

कोरोना नियमों का उल्लंघन करने वालो पर सख्त हुई पुलिस, 3 महीने में वसूले करोड़ों रुपये

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -