इन कंपनियों ने सरकार को चुकाया 94 करोड़ रुपये का स्पेक्ट्रम बकाया

मुंबईः देश में निजी क्षेत्र की दूरसंचार कंपनियां वोडाफोन, रिलायंस जियो और आइडिया ने दूरसंचार विभाग को करीब 94 करो़ड़ रुपये के बकाये रकम का भूगतान किया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, वोडाफोन आइडिया ने 54.52 करोड़ रुपये जबकि रिलायंस जियो ने करीब 39.1 करोड़ रुपये दिए हैं। इस बारे में पूछे जाने पर रिलायंस जियो की ओर से कोई जवाब नहीं मिला, जबकि वोडाफोन आइडिया के प्रवक्ता के मुताबिक, कंपनी कारोबार से जुड़े मामलों पर टिप्पणी नहीं करती है। बता दें कि कंपनियों के पास स्पेक्ट्रम का बकाया चुकाने के लिए किस्तों की सहूलियत है। सरकार ने उन्हें यह सुविधा दे रखी है।

संकटग्रस्त दूरसंचार क्षेत्र को स्पेक्ट्रम के भुगतान में दिक्कत न हो इसके लिए सरकार ने पिछले साल किस्तों की संख्या 10 से बढ़ाकर 16 कर दी थी। हाल ही में वोडाफोन समूह के चेयरमैन जेरार्ड क्लिस्टरली और मुख्य कार्यकारी अधिकारी निक रीड की मुलाकात दूरसंचार सचिव अंशु प्रकाश से हुई। इस बैठक में कंपनी ने कहा कि उसके स्पेक्ट्रम के भुगतान की वसूली दो साल के लिए टाल दी जाए, इसके अलावा कंपनी ने अन्य राहत उपायों की भी मांग की है।

ब्रिटिश टेलीकॉम दिग्गज ने दावा किया कि वोडाफोन और आइडिया के बीच व्यापार के सफल एकीकरण पर केंद्रित है। मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस जियो द्वारा यूजर्स को हर तरह की सुविधा देने से टेलिकॉम क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा बढ़ी है जिससे कंपनियों के मुनाफे में गिरावट आई है, साथ ही उनका कर्ज बढ़ गया है। बता दें कि बाजार में जियो के कदम रखऩे के बाद इस बिजनेस में जबरदस्त प्रतिस्पर्धा पैदा हो गई है। 

केंद्रीय मंत्री नकवी ने गिनाए एफडीआइ नियमों में सुधार के फायदे

पे‍ट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती जारी, जानें नई कीमत

Forbes India Rich List 2019: मुकेश अंबानी फिर बने सबसे अमीर भारतीय, देखें पूरी सूची

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -