भारत की इस टेलीकॉम कंपनी ने हासिल की बड़ी सफलता, शीर्ष दो में हुई शामिल

भारत की इस टेलीकॉम कंपनी ने हासिल की बड़ी सफलता, शीर्ष दो में हुई शामिल

टेलीकॉम कंपनी Reliance Jio के हाल ही में आयोजित AGM मीटिंग में कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि Jio इस समय दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी बन गई है. महज 3 साल पहले टेलिक़ॉम सेक्टर में कदम रखने वाली कंपनी ने इतने कम समय में तमाम कंपनियों को कैसे पीछे छोड़ दिया। ये अपने आप में आश्चर्यजनक है. 42वें AGM मीटिंग में कंपनी के चेयरमैन ने कहा कि Jio अब एक टेलिकॉम कंपनी ही नहीं रही है, अब ये एक टेक्नोलॉजी कंपनी भी बन गई है. अगले साल 1 जनवरी से Jio IoT (इटरनेट ऑफ थिंग्स) सर्विस को पूरे भारत में लॉन्च करेगा. आइए जानते है पूरी जानकारी विस्तार से 

Jio GigaFiber के नाम में हुआ बदलाव, जानिए ​क्या होंगे फायदे

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि Reliance Jio ने अपने 4G सर्विस को बेहतर बनाने के लिए 3.5 लाख करोड़ रूपये का इन्वेस्टमेंट किया है. इतने बड़े लेवल पर इन्वेस्टमेंट करने की वजह से यूजर्स को सीमलेस डाटा और नेटवर्क कनेक्टिविटी मिलेगी. यही नहीं, कंपनी के चेयरमैन ने ये भी कहा कि Reliance Jio ने 5G रेडी इंफ्रास्ट्रक्चर पहले से ही डेवलप कर लिया है. ऐसे में भारत में 5G सेवा चालू होते ही, Jio यूजर्स को सबसे पहले 5G सर्विस का लाभ मिल सकता है.Reliance Jio की वजह से ही हम कह सकते हैं कि भारत एक डाटा सेंट्रिक देश बन गया है. आज भारत में एक आम यूजर प्रति महीने 100GB तक डाटा खपत कर रहा है. इस समय Reliance Jio के 340 मिलियन डाटा यूजर्स हैं और जल्द ही कंपनी 500 मिलियन सब्सक्राइबर्स जोड़ने की प्लानिंग कर रही है. आपको बता दें कि Reliance Jio हर महीने 35 लाख नए उपभोक्ता को जोड़ रहा है. ऐसे में अन्य टेलिकॉम कंपनियों के लिए अभी और भी कड़ी चुनौतियां बांकी है.

Samsung का ये लेटेस्ट स्मार्टफोन 12 मिनट में होगा फुल चार्ज

अपने बयान में AGM मीटिंग के दौरान कंपनी के चेयरमैन ने कहा कि, Reliance Jio का इन्वेस्टमेंट साइकिल अब पूरा हो चुका है. हमें बस अब कुछ क्षेत्रों में ही इन्वेस्ट करना होगा. Reliance Jio इंटरनेट ऑफ थिंग्स को परे देश में, होम, इंटरप्राइजेज ब्रॉडबैंड, ब्रॉडबैंड फॉर स्मॉल एंड मिडियम इंटरप्राइजेज (SME) के लिए भी पेश करेंगे. इंटरनेट ऑफ थिंग्स के जरिए लोगों के होम अप्लायंसेज से लेकर बिजली के मीटर तक कनेक्ट हो सकेंगे. Jio अपने यूजर्स की पहचान करके उसके मुताबिक इन्वेस्टमेंट प्लान बना रहा है जो उसे दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बनाने की राह आसान बना रहा है.

LG के इस लेटेस्ट स्मार्टफोन के लिए रोल आउट हुआ Android 9 Pie, ये है स्पेसिफिकेशन

टेलिकॉम सेक्टर में Jio ने सितंबर 2016 में कदम रखते ही यूजर्स को डाटा बेस्ट वॉयस कॉलिंग की सुविधा देनी शुरू कर दी. Jio के लॉन्च से पहले यूजर्स को Rs 250 में महज 1GB डाटा एक महीने के लिए मिलता था.Jio के आने के बाद यूजर्स को Rs 400 में तीन महीने के लिए 90GB फ्री डाटा मिलने लगा. यही नहीं, अनलिमिटेड फ्री कॉलिंग की सुविधा भी मिलने लगी. इसके बाद से भारतीय टेलिकॉम बाजार में क्रांति सी आ गई। सभी टेलिकॉम कंपनियों ने अपने प्लान्स कम कर दिए. कई कंपनियां तो बंद हो गई और कई कंपनियों को एक-दूसरे में मर्ज होना पड़ा. Jio के इस अग्रेसिव प्राइसिंग की वजह से यूजर्स को इंटरनेट और कॉलिंग की सुविधा प्रतिदिन Rs 2 से Rs 4 के खर्चे में मिलने लगा. यही वो वजह है जो Jio को दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी बनाने में मदद की है. 

भारतीय यूजर्स को गूगल डूडल स्वतंत्रता दिवस पर खास अंदाज मे दी बधाई

Mercedes Benz ने बाढ़ पीड़ित की मदद के लिए किया बड़ा काम

Twitter ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर यूजर्स को बहुत अलग अंदाज में दी बधाई