Jio ने किया 5G टेक्नोलॉजी का सफल ट्रायल, हासिल हुई ये बड़ी उपलब्धि

रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म लिमिटेड ने अमेरीकी तकनीक फर्म Qualcomm Technologies Inc. के साथ मिलकर 5G तकनीक का सफल ट्रायल किया। इस ट्रायल के दौरान अधिकांश 1Gbps की स्पीड प्राप्त हुई। अमेरिका के सैन डियागो में हुए एक वर्चुअल समारोह मे इसकी घोषणा की गई। Reliance Jio Infocomm के प्रेसिडेंट मैथ्यू ओमान ने Qualcomm कार्यक्रम मे कहा कि 5G तकनीक का सफल ट्रायल फास्ट ट्रैक डेवलपमेंट तथा भारत में स्वदेशी 5G नेटवर्क इंफ्रास्ट्रक्चर तथा सेवा के रोलआउट मुहिम को दिखता है। मैध्यू ने कहा कि Qualcomm तथा Reliance की सब्सिडरी रेडिसिस के साथ मिलकर हम 5G तकनीक पर कार्य कर रहे हैं, जिससे 5G तकनीक को जल्द देश में पेश किया जा सके।

वही Reliance Jio के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने लगभग तीन महीने पहले 15 जुलाई की आमसभा में 5G तकनीक के डेवलपमेंट की घोषणा की थी। अंबानी ने कहा था कि देश में 5G स्पेक्ट्रम प्राप्त होते ही Reliance Jio की ओर से भारत में 5G तकनीक की टेस्टिंग आरम्भ हो जाएगी। Jio की ओर से 5G तकनीक के सफल ट्रायल के पश्चात् इसके निर्यात की घोषणा की गई। आपको बता दें कि देश में मौजूदा समय में 5G तकनीक की टेस्टिंग के लिए स्पेक्ट्रम उपलब्ध नही है। ऐसे में Jio ने अमेरिका में 5G तकनीक का सफल ट्रायल किया है। कंपनी के अनुसार, Jio की 5G तकनीक सभी पैरामीटर पर खरी सिद्ध होती है। इस अवसर पर Qualcomm के डिप्टी प्रेसिडेंस दुर्गा मल्लदी ने कहा कि हम Jio के साथ मिलकर कई प्रकार के बेहतरीन सॉल्यूशन तैयार कर रहे हैं। 

आपको बता दें कि COVID-19 के चलते दुनिया के अधिकांश देशो ने चीनी कंपनी Huawei पर पाबंदी लगा दी है। Huawei 5G तकनीक विकसित करने वाली चीनी कंपनी है। किन्तु जियो का मानना है कि 5G तकनीक के सफल ट्रायल के पश्चात् अब Reliance Jio भारत सहित वैश्विक बाजार में चीनी कंपनी Huawei के स्थान पर ले सकती है। 

"माइग्रेशन" को विराम देता है Microsoft

भारत में शुरू हुई vivi v20 की सेल

नोकिया 215 और नोकिया 225 शानदार फीचर्स के साथ हुआ लॉन्च

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -