पुलवामा हमला: रिलायंस फाउंडेशन का बड़ा ऐलान, हम उठाएंगे शहीदों के परिवार का खर्च

नई दिल्ली: रिलायंस फाउंडेशन ने शनिवार को कहा है कि वे पुलवामा आतंकी हमले में मारे गए सीआरपीएफ जवानों के परिवारों की शिक्षा और आजीविका की पूरी जिम्मेदारी संभालने के लिए तैयार है। एक बयान में रिलायंस फाउंडेशन ने कहा है कि, "शहीदों के प्रति हमारी कृतज्ञता के प्रतीक के रूप में, रिलायंस फाउंडेशन ने शहीदों के बच्चों की शिक्षा - रोजगार और उनके परिवारों की आजीविका के लिए पूरी जिम्मेदारी संभालने के लिए अपनी तत्परता व्यक्त की है।"

पुलवामा हमले को लेकर व्हॉट्सएप पर लिख दिया 'पाकिस्तान जिंदाबाद', गिरफ्तार

रिलायंस फाउंडेशन ने आगे कहा है कि उनका अस्पताल भी घायल जवानों को इलाज देने के लिए तैयार है। इसमें कहा गया है कि "हम अपने किसी अन्य उत्तरदायित्व को निभाने के लिए भी अपना कर्तव्य समझेंगे, जो हमारे प्यारे सशस्त्र बलों की सेवा में हम कर सकते हैं।" रिलायंस फाउंडेशन, रिलायंस इंडस्ट्रीज की लोकोपकारी शाखा है। कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले में 44 से अधिक सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे। शहीद सीआरपीएफ जवानों के मूल स्थानों पर अभी माहौल ग़मगीन हैं, क्योंकि उनका अंतिम संस्कार किया जा रहा है। 

बेहद रोमांचक होगा राष्ट्रीय बैडमिंटन चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला

बहादुरों को सलामी देने के लिए हजारों लोग विभिन्न राज्यों में लगभग हर अंतिम संस्कार स्थल पर इकट्ठा हो रहे हैं। वहीं शहीदों के परिवार ग़मगीन हैं। इसी बीच आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा है कि पूरा देश बहादुर सीआरपीएफ जवानों की शहादत पर शोक जता रहा है। उनके दुख की घड़ी में, हम शोक संतप्त परिवारों के साथ खड़े हैं। अपनी गहरी सहानुभूति व्यक्त करते हुए, हम शहीदों के परिवारों को 5 -5 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने का ऐलान करते हैं।

खबरें और भी:-

सिंधु ने जीत के साथ किया सीनियर राष्‍ट्रीय बैडमिंटन प्रतियोगिता का आगाज

आरबीआई ने चार गवर्नमेंट बैंकों पर ठोंका पांच करोड़ का जुर्माना

अजमेर में आयोजित सेवादल की बैठक में राहुल ने साधा पीएम मोदी पर निशाना

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -