'Zomato' के क़दमों पर चला 'Swiggy', जानिए क्या होगा नया?

रिलायंस बीपी मोबिलिटी लिमिटेड तथा स्विगी ने फुड डिलीवरी प्लेटफॉर्म के लिए बिजली के वाहन को तैनात करने की रणनीति बनाई है। कंपनी ने इसके लिए स्विगी के साथ भागेदारी की है। ट्रायल बेसिस के आधार पर भागेदारी का मकसद बैटरी ऑपरेटेड इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने के लिए प्रमोट करना है। इसमें इलेक्ट्रिक टू व्हीलर्स की तैनाती भी सम्मिलित है जिसमें जियो बीपी नेटवर्क का बैटरी स्वैप स्टेशन तथा स्विगी के डिलीवरी पार्टनर्स के नेटवर्क का भी समर्थन है। 

वही आरबीएमएल स्विगी की मदद से भिन्न-भिन्न स्थानों पर जियो-बीपी बैटरी स्वैपिंग स्टेशन सेटअप करेगा तथा स्विगी डिलीवरी पार्टनर्स एवं अन्य कर्मचारियों को सभी आवश्यक तकनीकी मदद तथा ट्रेनिंग देगा। रिलायंस बीपी मोबिलिटी लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अफसर हरीश सी मेहता ने बताया कि, आरबीएमएल एक मजबूत एवं टिकाऊ बुनियादी ढांचा स्थापित कर रहा है जिसमें ईवी चार्जिंग हब तथा बैटरी स्वैपिंग स्टेशन सम्मिलित हैं। 

वही ये सभी स्टेकहोल्डर्स को डिजिटल तौर पर इनेबल्ड सेवाएं देता हैं। स्विगी के साथ हमारी मदद देश में वितरण एवं परिवहन कंपनियों के बीच डिसरप्शन लाने और ईवी अपनाने को बढ़ाने की क्षमता रखता है। RBML ने बताया कि, इनोवेटिव बिजनेस मॉडल्स की सहायता से डिलीवरी फ्लीट हरित तथा कम लागत वाले सॉल्यूशन देंगे। स्विगी के चीफ एग्जीक्यूटिव Sriharsha Majety ने बताया कि, स्विगी फ्लीट माह में कई लाखों ऑर्डर डिलीवर करता है। हमारे पार्टनर्स एवरेज रूप से 80 से 100 किलोमीटर प्रतिदिन ट्रैवल करते हैं। 

यूजर्स के लिए 'YouTube' लाया बेहतरीन मौका, हर महीने 10 हजार डॉलर की हो सकती है इनकम

अच्छी खबर! भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को हंगरी से मिला GMP प्रमाण पत्र

WhatsApp लाया बेहतरीन अपडेट, एक बार देख लेने के बाद गायब हो जाएंगे मैसेज

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -