'पत्थर फेंकने का पछतावा, भारत लौटने की अनुमति दें..' लंदन से पत्थरबाज ने पीएम मोदी को लिखा पत्र
'पत्थर फेंकने का पछतावा, भारत लौटने की अनुमति दें..' लंदन से पत्थरबाज ने पीएम मोदी को लिखा पत्र
Share:

नई दिल्ली: लंदन में फरवरी 2022 में भारतीय उच्चायोग पर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन के बाद ब्लैक लिस्ट किए गए अंकित लव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक खुला पत्र लिखा है. इस पत्र में अंकित ने पीएम मोदी से माफी मांगते हुए भारत आने की इजाजत देने की गुहार लगाई है. बता दें कि अंकित लव जम्मू कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी (JKNPP) के दिवंगत संस्थापक भीम सिंह का पुत्र है.

दरअसल, एक सप्ताह पहले ही भीम सिंह की पत्नी और अंकित की मां जय माला का देहांत हुआ है. इसके बाद अंकित ने 2022 की अपनी गलतियों के लिए प्रधानमंत्री से माफी मांगते हुए अपनी मां का अंतिम संस्कार करने के लिए भारत में आने की अनुमति देने की अपील की है. बता दें कि लंदन स्थित भारतीय उच्चायोग पर प्रदर्शन के बाद कमिश्नर ने अंकित को ब्लैक लिस्टेड कर दिया था. प्रधानमंत्री मोदी को लिखे गए अपने पत्र में 39 वर्षीय अंकित ने कहा है कि उन्हें प्रदर्शन के दौरान अंडे और पत्थर फेंकने पर पछतावा है. इस पत्र में उन्होंने प्रधानमंत्री से आग्रह किया है कि वह इस मामले को संज्ञान लें और उन्हें भारत वापस लौटने की अनुमति दिलाएं, ताकि वह अपनी मां जय माला का अंतिम संस्कार कर पाएं. 

बता दें कि, भारतीय सुप्रीम कोर्ट की वकील रहीं जय माला का निधन 26 अप्रैल को 64 साल की उम्र में हो गया था. इसके बाद उनके बेटे के निवेदन पर जय माला की पार्थिव देह को जम्मू के सरकारी मेडिकल कॉलेज (JMC) में रखवा दिया गया है. दरअसल, अंकित ने आग्रह किया था कि जब तक वह हिंदुस्तान नहीं आ जाते, उनकी मां का अंतिम संस्कार न किया जाए. अंकित लव ने पीएम को लिखे पत्र में कहा है कि उन्हें प्रदर्शन के दौरान अपने किए हरकत पर अफ़सोस है. वह अपने सभी गलत कृत्यों के लिए क्षमा मांगते हैं. लव ने पीएम मोदी से कहा कि मेरी माफी को स्वीकार कर मुझे क्षमा करे और जम्मू लौटने की इजाजत दें, ताकि मैं अपनी मां का अंतिम संस्कार कर सकूं. अंकित लव ने कहा कि यदि उन्हें अनुमति मिलती है, तो वह पीएम मोदी के हमेशा आभारी रहेंगे. बता दें कि, ब्लैकलिस्टेड होने के बाद भारतीय उच्चायोग ने अंकित को भारत लौटने की मंजूरी नहीं दी है. 

Wrestlers Protest: पहलवानों और दिल्ली पुलिस की झड़प का सच क्या ? AAP नेता का भी नाम आया सामने

मणिपुर में कैसा बवाल ? हिंसा-आगज़नी के बाद राज्य के 8 जिलों में कर्फ्यू, बुलाई गई सेना

The Kerala Story: प्यार, धर्मान्तरण और आतंकवाद..! दिल दहला देगी इन 3 लड़कियों की कहानी

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -