यहां पर कमरे को लेकर विधायकों और अधिकारियों में हुई आपसी तनातनी

May 23 2020 11:50 AM
यहां पर कमरे को लेकर विधायकों और अधिकारियों में हुई आपसी तनातनी

भारत के राज्य पंजाब में सरकार ने सीनियर सहायक रजनीश मैनी को मुख्य सचिवालय से मिनी सचिवालय शिफ्ट करते हुए राजनीतिक शाखा से हटाकर पीडब्ल्यूडी में तैनात करने के आदेश जारी कर दिए हैं. रजनीश मैनी वही अधिकारी हैं, जिन्होंने नई दिल्ली स्थित पंजाब भवन के ब्लाक-ए में कुछ विधायकों को यह कहते हुए कमरे अलॉट करने से इंकार कर दिया था कि इस ब्लाक में मुख्य सचिव और कुछ विशेष अधिकारी ही ठहर सकते हैं.

मौत का कुआँ ! 9 लाशें मिलने से इलाके में सनसनी, गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि विधायकों को उनकी पसंद के कमरे अलाट नहीं किए जाने का मामला काफी दिनों तक सुर्खियों में रहा था. कांग्रेसी विधायकों ने यह मामला न सिर्फ मुख्यमंत्री के समक्ष उठाया, बल्कि पंजाब विधानसभा सत्र में भी मामला गूंजा. हालांकि उस समय तो विधायकों की उक्त अधिकारी को हटाने की मांग पर कोई कार्रवाई नहीं हुई, लेकिन लंबे समय बाद अब हुई कार्रवाई को मुख्य सचिव-मंत्री विवाद से जोड़ कर देखा जा रहा है.

चीन से तनातनी के बीच लद्दाख दौरे पर पहुंचे सेनाध्यक्ष मुकुंद नरवणे, किया LAC का दौरा

इसके अलावा मुख्य सचिव को हटाने की मांग कर रहे मंत्रियों और विधायकों को शांत करने के लिए मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव का बचाव करते हुए मामूली ओहदे पर तैनात अधिकारी पर गाज गिरा दी. हालांकि इस अधिकारी ने विवाद उठते ही अपने स्पष्टीकरण में सरकार को बता दिया था कि उन्होंने कमरे अलाट करने संबंधी निर्धारित नियमों के तहत ही विधायकों को ब्लाक-ए में कमरे अलाट करने से इंकार किया था.

राहुल गाँधी ने जारी किया मजदूरों के साथ बातचीत का वीडियो, श्रमिकों ने बताया दर्द

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत बोले, गहलोत सरकार को लेकर कही यह बात

मजदूरों पर सियासत ! आज श्रमिकों से मुलाकात का वीडियो जारी करेंगे राहुल गाँधी