RBI का बड़ा ऐलान- अब अगस्त तक EMI के लिए दबाव नहीं बना पाएंगे बैंक

RBI का बड़ा ऐलान- अब अगस्त तक EMI के लिए दबाव नहीं बना पाएंगे बैंक

नई दिल्ली: कोरोना महामारी में लॉकडाउन की मार झेल रही देश की आवाम के लिए भारतीय रिजार्व बैंक (RBI) की ओर से राहत भरी खबर आई है. RBI ने रेपो रेट में 0.40 फीसदी की कटौती की घोषणा की गई है. इसे 4.4% से घटाकर 4% कर दिया गया है. इस फैसले से आम जनता की EMI कम हो सकती है. 

RBI गवर्नर शक्तिकांता दास ने EMI के भुगतान पर 3 महीने की अतिरिक्‍त छूट देने की भी घोषणा की है. इसका मतलब है कि यदि आप अगले 3 महीने तक अपने लोन की किश्त नहीं देते हैं तो बैंक आप पर किसी प्रकार का कोई दबाव नहीं डालेगा. बता दें कि पहले यह रियायत मार्च से मई तक दी गई थी. अब EMI भुगतान में रियायत को अगस्त तक के लिए आगे बढ़ा दिया गया है. आपको बता दें कि लॉकडाउन के दौरान RBI ने रेपो रेट पर दूसरी बार कैंची चलाई है.

इससे पहले 27 मार्च को आरबीआई गवर्नर ने 0.75 फीसदी कटौती की घोषणा की थी. इसके बाद बैंकों ने लोन पर ब्‍याज दर घटा दिया था. शुक्रवार को प्रेस वार्ता में आरबीआई गवर्नर ने कहा कि कोरोनो वायरस की वजह से ग्लोबल इकोनॉमी पर बड़ा असर पड़ा है. उन्होंने बताया कि मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) पॉलिसी रेपो रेट में 0.40 फीसद की कटौती पर राजी हुई है. इससे लोगों पर लोन की किश्त का बोझ कम होगा. 

RBI ने रेपो रेट में की बड़ी कटौती, अब सस्ती दरों पर मिल सकेगा कर्ज

केवल राशन पर्याप्त नहीं, मजदूरों को नकदी की भी जरुरत- रघुराम राजन

मोदी सरकार के राहत पैकेज पर RBI निदेशक ने उठाए सवाल, कही ये बात