महंगाई पर राहत, तो EMI पर आफत.., RBI ने फिर बढ़ाया रेपो रेट

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की मॉनीटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) की मीटिंग आज समाप्त हो गई है. RBI के गर्वनर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने आज मीटिंग में लिए गए फैसलों की जानकारी देते हुए रेपो रेट में बढ़ोतरी की घोषणा की है. शक्तिकांत दास ने बताया है की रेपो रेट में 0.50 फीसदी की वृद्धि की गई है. बता दें कि, महंगाई पर नियंत्रण पाने के लिए केंद्रीय बैंक लगातार रेपो रेट में वृद्धि कर रहा है. गत माह पांच अगस्त को भी RBI ने रेपो रेट में 0.50 फीसदी की वृद्धि की गई थी.

आज हुई वृद्धि के मिलाकर RBI के बाद से रेपो रेट अब तक चार बार वृद्धि कर चुका है. इस कारण रेपो रेट अब 5.90 फीसदी पर पहुंच चुका है. इससे पहले ये 5.40 पर था. RBI गवर्नर ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी और रूस-यूक्रेन युद्ध के झटके के बाद एक और तूफान वैश्विक केंद्रीय बैंकों द्वारा आक्रामक मौद्रिक नीतियों से पैदा हुआ है. रेपो रेट में वृद्धि के बाद कर्ज महंगा हो जाएगा, क्योंकि बैंकों की बोरोइंग कॉस्ट बढ़ जाएगी.

इसके बाद बैंक अपने कस्टमर्स पर इसका बोझ डालेगे. होम लोन के अलावा ऑटो लोन और अन्य लोन भी महंगे हो जाएंगे. रेपो दर (Repo Rate) का सीधा ताल्लुक बैंक से लिए जाने वाले लोन (Loan) और EMI से है. दरअसल, रेपो रेट वह दर होती है जिस पर RBI बैंकों को लोन देता है.

मुकेश अंबानी को मिली Z+ सिक्योरिटी, IB ने जताया जान को ख़तरा

सोने-चांदी की कीमतों में आई भारी गिरावट, जानिए क्या है आज के भाव

इस मैरिज हॉल को देख हैरान हुए आनंद महिंद्रा, जताई बनाने वाले से मिलने की इच्छा

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -