बार-बार व्यक्ति को भटकाना पड़ा पटवारी को महगा

Jan 28 2016 07:43 PM
बार-बार व्यक्ति को भटकाना पड़ा पटवारी को महगा

रतलाम/आलोट: जी हाॅ मामला है, रतलाम के पास आलोट का जहां पवन कुमार गोयल नामक पटवारी को 10000 हजार की रिश्वत लेते हुयें लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथ पकड़ा है, उज्जैन लोकायुक्त एसपी के अनुसार हमारे पास सुरेश नामक व्यक्ति आया, और उसने हमें बताया कि हमारे क्षेंत्र के पटवारी पवन गोयल हम से 50000 रू मांग रहें है। मैने पूछा कि किस कारण से आपस से इतने पैसे मांगे जा रहे है, तो सुरेश ने बताया कि मैरें पिता जिनका नाम- करण है, का पिछले वर्ष निंधन हो गया है। और उनके नाम से 12 एकड़ जमीन है और वह जमीन का मुझे नामांतरण करवाना था, जिसके चलते पटवारी मुझसे पैसे मांग रहा है। परंन्तु मैने मना किया तो कहने लगा आपको कम से कम तीस हजार रू देने ही पड़ेगें तभी आप का नामांतरण हो पायेगा । 

मैनें पटवारी गोयल से अपनी आर्थिक स्थिति भी बताई पर वह मानने के लियें तैयार ही नही हुऐ जिसकें कारण मैनें उंनसे कहा कि हम एक बार में इतना पैसा नही दे पाएगें तो पटवारी गोयल ने कहा कि आप दस-दस करके तीन बार में दें। तो मै मान गया पर हमारे पास इतना पैसा नही था हम काफी परेशान हो रहे थें तभी हमारे गांव के एक व्यकित ने हमें आपके बारे में बताया। तो हम आपके पास चले आये साहब जी, तो मैंने तुरन्त अपने कार्यालय के एक सदस्य के साथ वाॅइस रिकार्डर लेकर पटवारी के यहां भेज दिया । 

पटवारी और सुरेश की फिर बात हुई जिसमें गुरुवार को दस हजार रू देना फिक्स हुआ। फिर हमारी पूरी टीम के साथ पटवारी के घर पहुचे और योजना बनाई की सुरेश जैसे पैसे देगा हम तुरंत रंगे हाथो पटवारी को पकड़ लेगे और सभी योजना के अनुसार ही हुआ जैसे ही सुरेश से पटवारी गोयल ने पैसें लिये हमने तुरंत पटवारी को पकड़ लिया। पटवारी के ऊपर हमने भ्रष्टाचार से संबधित धारा लागाकर केस दर्ज कर लिया।