रतलाम में कोरोना का कहर जारी, 8 नए मामले आए सामने

मध्य प्रदेश के कई जिलों में कोरोना का कहर जारी है. लॉकडाउन के 2 सप्ताह तक सुरक्षित रहा रतलाम जिला अब कोरोना संक्रमण का शिकार हो रहा है, यहां अभी तक 8 पॉजिटिव मरीज मिले हैं. इंदौर में कोरोना संक्रमित व्यक्ति की मौत के बाद शव रतलाम लाकर दफनाने के दौरान जनाजे में शामिल मृतक का बेटा भी कोरोना संक्रमित पाया गया. मंगलवार को 6 अन्य लोगों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. इसमें बोहरा बाखल, जवाहर नगर हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी क्षेत्र से एक-एक मरीज शामिल है. इनमें एक युवती भी है. शहर में अभी लोहार रोड व मोचिपुरा इलाका कंटेंटमेंट क्षेत्र घोषित किया गया है. नई रिपोर्ट के अनुसार कुछ अन्य इलाके भी सील किए जा सकते हैं.

बता दें की संक्रमित पाए गए लोगों में से 3 उज्जैन जिले के नागदा के निवासी हैं जो कुछ दिनों पहले ही जिले के गांव नांदलेटा आ पहुंचे थे. यह तीनों नागदा में मिले संक्रमित के मोहल्ले से हैं. इनके रतलाम में आने की सूचना भी एसपी को मीडिया के जरिये दी गई थी, तब पूरे परिवार को क्वारन्टीन कर सेम्पल लिए गए थे.

वहीं रतलाम में कोरोना का कहर धीरे धीरे बढ़ता जा रहा है. बता दें की इंदौर में लोहार रोड निवासी एक व्यक्ति की मौत के बाद उसका शव 4 अप्रैल को रतलाम लाकर दफनाया गया था जनाजे में 20 से अधिक लोग शामिल हुए थे और कोरोना की पहली पॉजिटिव रिपोर्ट भी इसके बाद ही आई. शव रतलाम लाने को लेकर जांच चल रही है. इसी तरह पिपलोदा थाना क्षेत्र के नांदलेटा ग्राम में भी नागदा के संक्रमण वाले इलाके से पूरा परिवार आ गया था. इसकी भी सूचना प्रशासन को नहीं मिली.

उतर प्रदेश में बढ़ी मरने वालों की संख्या

हिमाचल में गिरे सब्जियों के दाम, अर्थव्यवस्था को हो सकता है भारी नुकसान

बांद्रा में जुटी भीड़ पर बरसे अखिलेश यादव, भाजपा पर किया तगड़ा वार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -