'नोटबंदी के सबसे बड़े घोटाले में अमित शाह शामिल'

एक प्रेस कॉन्फेंस में नोटबंदी को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने शुक्रवार को बीजेपी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को घेरा है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, 'बीजेपी और उनके अध्यक्ष कल से काफ़ी घबराए हुए हैं. नोटबंदी इस देश का सबसे बड़ा घोटाला था, 19 महीने बाद काला धन सफ़ेद करने के धंधे का पर्दाफ़ाश हो चुका है. गुजरात में बीजेपी नेताओं द्वारा चलाए जा रहे 11 जिला सहकारी बैंकों में नोटबंदी के दौरान सिर्फ 5 दिनों में 14,300 करोड़ रुपये जमा किए गए हैं.'


सूत्रों के अनुसार आरटीआई के जरिए मांगी गई जानकारी से यह बात सामने आई है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह जिस सहकारी बैंक के निदेशक हैं, वह नोटबंदी के दौरान सबसे ज्यादा 500 और 1000 रुपये के प्रतिबंधि‍त नोट जमा करने वाला जिला सहकारी बैंक था. मुंबई के एक आरटीआई कार्यकर्ता मनोरंजन एस. रॉय को जानकारी मिली है कि अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक (एडीसीबी) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोटबंदी की घोषणा करने के महज पांच दिन के भीतर 745.59 करोड़ रुपये मूल्य के प्रतिबंधित नोट प्राप्त किए थे.

साथ ही ये भी जानकारी मिली है कि एडीसीबी के बाद सबसे ज्यादा प्रतिबंधित नोट जमा करने वाला सहकारी बैंक राजकोट जिला सहकारी बैंक है जिसके अध्यक्ष गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की सरकार में कैबिनेट मंत्री जयेशभाई विट्ठलभाई रडाड़िया हैं. इस बैंक ने 693.19 करोड़ रुपये मूल्य के प्रतिबंधित नोट जमा लिए थे. सुरजेवाला ने इन्ही आकड़ों के साथ  बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर हमला किया है.

शाह के बंगाल पहुंचते ही हराम हो जाती है ममता की नींद

मप्र: कांग्रेस ने किया उप-मुख्यमंत्री के नाम का एलान

पीडीपी से समर्थन वापस लेने का फैसला चुनावी नहीं - शाह


  

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -