हिमाचल प्रदेश में बंदरों की हत्या को मिली मंजूरी, सुरजेवाला बोले- कहाँ हैं मेनका गाँधी ?

Jun 07 2020 02:06 PM
हिमाचल प्रदेश में बंदरों की हत्या को मिली मंजूरी, सुरजेवाला बोले- कहाँ हैं मेनका गाँधी ?

नई दिल्ली: केरल में पिछले दिनों एक गर्भवती हथिनी की बेहद दर्दनाक मौत हुई थी. इसके बाद पूरे देश में इसे लेकर लोगों में गुस्से का माहौल रहा. भाजपा सांसद मेनका गांधी सहित भाजपा के कई नेताओं ने केरल सरकार और राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा. वहीं, केंद्र सरकार ने गर्भवती हथिनी की मौत मामले में गंभीर रुख अपनाते हुए राज्य से रिपोर्ट देने के लिए भी कहा है.

इस घटना को कुछ दिन भी नहीं हुए कि अब केंद्र सरकार ने हिमाचल प्रदेश की कई तहसीलों में बंदरों को मारने के लिए स्वीकृति दे दी है. इसे लेकर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने केंद्र सरकार और भाजपा सांसद मेनका गांधी पर हमला किया है. बंदरों को मारे जाने के लिए केंद्र की तरफ से जारी की गई अधिसूचना को लेकर रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, 'भाजपा के मुताबिक शायद 'हनुमान जी' के प्रतीक बंदरों को मारने का सरकारी लाइसेंस देना ''पशुओं के प्रति क्रूरता'' में नही आता.' सुरजेवाला ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक स्क्रीनशॉट पोस्ट करते हुए ट्वीट किया, अब श्रीमती मेनका गांधी कहां गुम हैं?

आपको बता दें कि हिमाचल प्रदेश के लिए केंद्र सरकार ने एक अधिसूचना जारी की है, जिसके तहत राज्य की 91 तहसीलों में रीसस मकाक प्रजाति के बंदरों को मारा जाएगा. अधिसूचना के अनुसार, इन बंदरों को सिर्फ निजी भूमि में नुकसान करने पर ही मारा जाएगा. आपको बता दें कि बीते दिनों हथिनी की दर्दनाक मौत को मेनका गांधी ने हत्या करार दिया था. इसके साथ ही उन्होंने केरल को देश का सबसे हिंसक राज्य बताया था. उन्होंने कहा था कि यहां लोग सड़कों पर विष फेंक देते हैं, जिससे 300 से 400 पक्षी और कुत्ते एक साथ मर जाते हैं.

 

सीएम केजरीवाल पर कुमार विश्वास का हमला, बोले- डॉक्टरों पर फोड़ा अपने निकम्मेपन का ठीकरा

गुजरात राज्यसभा चुनाव से पहले रिसोर्ट पॉलिटिक्स शुरू, कांग्रेस ने होटल में छिपाए अपने विधायक

'आयुष्मान भारत' को WHO ने सराहा, भारत में कोरोना को लेकर कही ये बात