सवर्ण आरक्षण बिल पर राष्ट्रपति ने प्रदान की मंजूरी

Jan 13 2019 08:27 AM
सवर्ण आरक्षण बिल पर राष्ट्रपति ने प्रदान की मंजूरी

नई दिल्ली : देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सवर्ण श्रेणी के आर्थिक रूप से कमजोर तबके को सरकारी नौकरियों और शिक्षा में 10 फीसदी आरक्षण देने संबंधी विशेष प्रावधान को मंजूरी दे दी है। केंद्रीय विधि एवं न्याय मंत्रालय की ओर से शनिवार को जारी अधिसूचना में कहा गया कि संविधान अधिनियम, 2019 को राष्ट्रपति की मंजूरी मिल गई है।

101 साल की वृद्ध महिला को मिली भारतीय नागरिकता

ऐसा है प्रावधान यहां होगा लागू 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार संविधान अधिनियम के जरिए संविधान के अनुच्छेद 15 और 16 में संशोधन किया गया है। इसके जरिए एक प्रावधान जोड़ा गया है जो राज्य को नागरिकों के आर्थिक रूप से कमजोर किसी तबके की तरक्की के लिए विशेष प्रावधान करने की अनुमति देता है। यह विशेष प्रावधान निजी शैक्षणिक संस्थानों सहित शिक्षण संस्थानों, चाहे सरकार द्वारा सहायता प्राप्त हो या न हो, में उनके दाखिले से जुड़ा है। हालांकि यह प्रावधान अल्पसंख्यक शिक्षण संस्थानों पर लागू नहीं होगा।
  

हिमाचल प्रदेश में तेजी से फ़ैल रहा स्वाइन फ्लू, अलर्ट जारी

जानकारी के लिए बता दें कि केंद्र की मोदी सरकार ने लोकसभा चुनाव से ठीक पहले बड़ा फैसला लेते हुए सामान्य वर्ग के लोगों के लिए 10 फीसदी आरक्षण देने का एलान किया है। फैसले के अनुसार सालाना आठ लाख रुपए से कम आय वाले सवर्णों को भी 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा। इसके लिए कई तरह की शर्तें निर्धारित की गई हैं। 

अनियंत्रित होकर नहर में जा गिरी ट्रैक्टर ट्राली,पांच की मौत

इन धाकड़ फीचर के साथ आता है यह फ़ोन, कीमत 7 हजार रु से भी कम

सैमसंग के इस धाँसू फोन की कीमत में 13 हजार रु की कटौती