एक ही दिन बीजेपी के साथ घटी चार घटना ने तोड़ दी है कमर

जबलपुर : राज्यसभा में भी बहुमत हासिल करने के लिए बीजेपी हर जुगत लगा रही है, लेकिन उसे मुंह की खानी पड़ रही है। गुरुवार को कांग्रेस उम्मीदवार विवेक तन्खा को बड़ी राहत मिल गई। हाइकोर्ट ने कांग्रेस विधायक सत्यदेव कटारे को डाक मतपत्र जालने की इजाजत दे दी।

कटारे मुंबई में अपना इलाज करा रहे है। एक अन्य मामले में बड़वानी से विधायक रमेश पटेल को कोर्ट से जमानत मिल गई। 11 जून को राज्यसभा के लिए चुनाव होने है, इसके दो दिन पहले आए इस फैसले ने कटारे का पक्ष मजबूत कर दिया है।

दूसरी ओर बीजेपी के देवसर से विधायक राजेंद्र मेश्राम की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई से इंकार कर दिया है। बीजेपी के एक और नेता राजेंद्र दादु की सड़क हादसे में मौत हो गई है। वे राज्यसभा चुनाव के मद्देनजर रखी गई मीटिंग में हिस्सा लेने भोपाल जा रहे थे।

एक ही दिन में इतने सारे हादसे होने से बीजेपी अवश्य विचलित हो गई है। बीजेपी को पहले तीसरी सीट के लिए अपने विधायकों के 50 वोट मिल रहे थे, जो अब 48 रह गए है। कांग्रेस में जो दो वोटों के नुकसान की चिंता थी, वह खत्म हो गई है।

कांग्रेस अब पूरे विधायकों के साथ 57 के अंक पर टिक गई है। उसे जीत के लिए सिर्फ एक वोट की जरूरत है। बसपा के चार विधायकों के समर्थन के बाद तन्खा का पलड़ा भारी हो गया है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -