राम रहीम को सजा सुनाने वाले जज को है जान खतरा, बिना सोचे समझे किया ऐसा काम

Jul 04 2020 03:59 PM
राम रहीम को सजा सुनाने वाले जज को है जान खतरा, बिना सोचे समझे किया ऐसा काम

सीबीआई के जज जगदीप सिंह ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम की किस्मत का फैसला किया था. उन्होने लंबी सुनवाई के बाद राम रहीम के खिलाफ फैसला सुनाया था. लेकिन अब वे अपनी सरकारी बुलेट प्रूफ टाटा सफारी गाड़ी को लेकर चर्चा में है. जिससे उन्होने वापस कर दी है. उनका कहना है कि यह गाड़ी अन्य गाड़ियों के साथ रफ्तार नहीं मिला पाती थी. तेज गति से भगाने पर वजन अधिक होने के कारण गाड़ी का दम फूल जाता था.

भागलपुर में बम मिलने से मचा हड़कंप

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एक स्थान पर गाड़ी में तकलीफ आने के पश्चात उन्होंने गाड़ी और ड्राइवर दोनों वापस कर दिए हैं. बता दे​ कि जज जगदीप सिंह को यह गाड़ी जेड सुरक्षा के लिए प्रदान की गई है. उनके पूरे परिवार की सुरक्षा इसलिए बढ़ाई गई थी कि उन्होंने हरियाणा के सर्वाधिक संवेदनशील मामले में सजा सुनाई थी. वही, उनके द्वारा सजा सुनाए जाने के बाद ही राम रहीम को सरकार ने जेल भेजा था. उसके बाद से ही उनकी सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जा रहा था.

देश के मुकाबले कहीं बेहतर है बंगाल की बेरोज़गारी दर, सीएम ममता ने दिखाए आंकड़े

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि गाड़ी का वजन का अन्य कारों से बहुत अधिक है . क्योकि ये कार बुलेट प्रूफ है. जिसके कारण यह तेज नहीं दौड़ पाती थी. सुरक्षा काफिले में गाड़ी पीछे न रह जाए, इसलिए इसे 30 से 40 की स्पीड पर दौड़ाया जाता था. साथ ही, पंचकूला में लोकल ही कही जाने के लिए तो गाड़ी से काम चलता था, लेकिन यदि बाहर जाना हो तो गाड़ी के साथ चलना मुश्किल होता था. सुरक्षा कारणों से भी देखा जाए तो यह गाड़ी मुफीद नहीं बैठ रही थी. तंग आकर गाड़ी को किनारे कर दिया गया.

अब योगी सरकार ने दिया चीन को झटका, कानपुर-आगरा मेट्रो प्रोजेक्ट का टेंडर ख़ारिज

भारत को विभाजित करना चाहता है ये दल, चीन की हरकतों से मिला सपोर्ट

भारत-चीन तनाव के बीच गिर रहा स्मार्टफोन कंपनियों का प्रोडक्शन