राम जेठमलानी ने सुनाई खरी-खरी

राम जेठमलानी ने सुनाई खरी-खरी

नई दिल्ली: राम जेठमलानी ने अपनी ही पार्टी भारतीय जनता पार्टी पर तंज कसते हुए कहा है की संघ के मोहन भागवत को आरक्षण जैसे मुद्दे पर सटीक बयान का उल्लेख करना चाहिए. राम जेठमलानी ने कहा कि बिहार में ऊंची जातियों के कुछ वोट बटोरने के लिए ही संघ प्रमुख मोहन भागवत आरक्षण पर पुनर्विचार करने को कह रहे हैं. व ऐसे में भारतीय जनता पार्टी बिहारी जनता के साथ धोखा कर रही है. जेठमलानी ने आगे कहा की नरेंद्र मोदी ने कालाधन वापस लाकर 15 लाख रुपये हर किसी के खाते में देने का वादा किया था.

तथा यह वादा भी पूरा नही किया व इसके साथ उन्होंने अरुण जेटली को भी लपेटा. नामी वकील राम जेठमलानी ने कहा है की भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पब्लिक स्टेटमेंट जारी कर यह साफ कर सुनिश्चित करे की भारत में पिछड़ों के आरक्षण को लेकर सरकार कोई हस्तक्षेप नही करेगी.