राकेश टिकैत ने फिर किया प्रदर्शन का ऐलान, बताई 31 जनवरी की तारीख

लखनऊ: किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि 31 जनवरी को पूरे देश में SDM, DM और डीसी के कार्यालयों पर हमारा एक कार्यक्रम है, भारत सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) गारंटी कानून बनाने के लिए समिति गठित करने की बात कही थी, लेकिन वो कमेटी अभी नहीं बनी। बहुत मुक़दमे दर्ज़ हैं, वो मुक़दमे वापस नहीं हुए, ये सारे वादे एक बार सरकार को याद दिला दें।

दरअसल संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) के नेताओं ने बीते दिनों एक बैठक में यह फैसला लिया था कि 31 जनवरी को पूरे देश में विश्वासघात दिवस मनाया जाएगा और जिला एवं तहसील स्तर पर बड़े विरोध प्रदर्शन आयोजित किए जाएंगे। इन प्रदर्शनों में केंद्र सरकार के नाम ज्ञापन भी सौंपा जाएगा। SKM के नेताओं का आरोप है कि भारत सरकार ने आंदोलन वापसी को लेकर MSP के मुद्दे पर कमेटी गठित करने का वादा किया था। साथ ही आंदोलन के दौरान हुए मुकदमों को फ़ौरन वापस लेने और शहीद परिवारों को मुआवजा देने के वादे किए गए थे। इनमें से कोई भी वादा अभी तक पूरा नहीं किया गया है।

बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ 2020 के नवंबर महीने में दिल्ली की बॉर्डर्स पर किसान आंदोलन शुरू हुआ था। इस दौरान सरकार और किसान संगठनों के बीच कई दौर की वार्ता भी हुई, लेकिन समाधान नहीं निकला। जिसके बाद गत वर्ष 19 नवंबर को पीएम मोदी ने तीनों कानूनों को वापस लेने की बात कही। हालांकि इसके बाद भी किसान आंदोलन ख़त्म करने को राजी नहीं थे।  

वियतनाम में अंतर्राष्ट्रीय आगमन जनवरी में 11.2 प्रतिशत बढ़ा

ISIS के लिए काम कर रहे 8 लोगों के खिलाफ NIA की चार्जशीट, कांग्रेस के पूर्व विधायक के परिवार के लोग भी शामिल

मुंबई में आज से शुरू होने जा रही है सात दिवसीय शो जंपिंग घुड़सवारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -