राकेश टिकैत ने फिर दी आंदोलन की चेतावनी, कहा- न MSP पर कमिटी बनी, न किसानों पर दर्ज केस वापस हुए

नई दिल्ली: एक साल तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में चले किसान आंदोलन से सुर्ख़ियों में आए किसान नेता राकेश टिकैत ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला है. राकेश टिकैत ने कहा है कि केंद्र सरकार की तरफ से न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को लेकर अब तक कमेटी नहीं बनाई गई है. टिकैत ने आंदोलन के दौरान किसानों के खिलाफ दर्ज मुकदमों पर भी बात की.

दरअसल, भारतीय किसान यूनियन (BKU) प्रवक्ता राकेश टिकैत बुधवार को उत्तराखंड के उधम सिंह नगर जिले के बाजपुर पहुंचे थे. यहां मीडिया से मुखातिब होते हुए टिकैत ने कहा कि किसान आंदोलन के दौरान सरकार से MSP पर समझौते को लेकर चर्चा हुई थी. इसमें केंद्र सरकार ने अब तक केवल किसान मोर्चा से कमेटी के लिए नाम मांगे हैं. टिकैत ने आगे कहा कि किसान आंदोलन के दौरान हमारे सरकार के साथ कई समझौते हुए थे. एक समझौता यह भी हुआ था कि किसानों के खिलाफ दर्ज किए गए केस वापस लिए जाएंगे. इस पर प्रस्ताव भी बना था. लेकिन अब तक केवल हरियाणा और पंजाब में किसानों पर हुए केस वापस लिए गए हैं. उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के किसानों के खिलाफ दर्ज केस अब भी वापस नहीं लिए गए हैं. 

राकेश टिकैत ने आगे कहा कि केस वापसी को लेकर किसानों का एक प्रतिनिधिमंडल केंद्र सरकार के साथ चर्चा करेगा. केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए टिकैत ने कहा कि किसान संगठनों को दबाने के लिए सरकार उन पर केस दर्ज करने की साजिश कर रही है. इसे किसी कीमत पर पूरा होने नहीं दिया जाएगा. टिकैत ने कहा कि देश में एक बड़े आंदोलन की आवश्यकता है. इसके लिए सभी को मिलकर आगे आना होगा. 

जेल में ही रहेंगे आज़म खान या मिलेगी बेल ? आज आ सकता है हाई कोर्ट का फैसला

राहुल गांधी को हाई कोर्ट से बड़ा झटका, नहीं मिली उस्मानिया यूनिवर्सिटी में सियासी कार्यक्रम की इजाजत

बलात्कार मामले में भाजपा MLA गणेश नाइक को अग्रिम जामनत, हाई कोर्ट ने कहा- सहमति से बने थे संबंध

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -