टिकैत का ऐलान- किसान डरने वाले नहीं, जरुरत पड़ी तो गिरफ्तारी देंगे, लाठीचार्ज भी सहेंगे

चंडीगढ़: हरियाणा के हिसार में किसानों पर लाठीचार्ज को लेकर भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के प्रवक्ता और किसान आंदोलन के अग्रणी नेता राकेश टिकैत मनोहर लाल खट्टर सरकार पर बुरी तरह भड़के दिखाई दे रहे हैं। राकेश टिकैत ने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है और कहा है कि आवश्यकता पड़ी तो वो अपनी गिरफ्तारी देंगे।

टिकैत ने एक ट्वीट करते हुए कहा है कि आंदोलनकारी का रास्ता गोली और लाठी नहीं रोक सकती। 5 माह से अधिक समय से दिल्ली की सरहदों पर केंद्र सरकार के 3 कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों को लेकर उनका कहना है कि किसान डरने वाले नहीं हैं। टिकैत ने लाठीचार्ज के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि, ‘हमें यहां रुकना होगा तो रुकेंगे, गिरफ्तारी देनी होगी तो वो भी देंगे। अगर वे लाठीचार्ज करना चाहते हैं, तो करें। इस शासन के उपचार के लिए हम बैठे हैं। बिना उपचार के सरकार मानेगी नहीं। इलाज तो इनका कई जगह किया।’

राकेश टिकैत ने कहा कि उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनावों में योगी सरकार ने ‘ठगी’ की बाद भी इसके उनके 400 प्रत्याशी जीते। उन्होंने कहा कि किसानों पर लाठीचार्ज की यह कोई पहली घटना नहीं है, उससे पहले भी कई दफा सरकार ने किसानों पर लाठीचार्ज किया है।

WPI मुद्रास्फीति अप्रैल में 10.49 प्रतिशत अंकों की दी गई छूट

एनईएफटी सेवा 23 मई को 14 घंटे के लिए नहीं होगी उपलब्ध: आरबीआई

बढ़ते कोरोना के बीच दिल्ली एयरपोर्ट का बड़ा फैसला, आज रात से बंद हो जाएगा टर्मिनल T2

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -