केंद्रीय गृहमंत्री ने की विपक्षियों से माफी मांगने की अपील

Feb 12 2016 11:57 AM
केंद्रीय गृहमंत्री ने की विपक्षियों से माफी मांगने की अपील

नई दिल्ली : मुंबई में हुए 26/11 के आतंकी हमले को लेकर गवाह बने डेविड हेडली के इशरत जहां को लेकर दिए गए महत्वपूर्ण बयान के बाद भारत की राजनीति गर्मा गई है। इस मामले में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस, वामपंथियों और अन्य दलों से सवाल किए हैं। उन्होंने इस मामले में दुर्भावनापूर्ण राजनीति करने के आरोप लगाने पर इन दलों के नेताओं द्वारा माफी मांगे जाने की मांग की है।

उन्होंने कहा कि जिस तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य नेताओं के विरूद्ध दुर्भावनापूर्ण प्रचार करने हेतु देश से माफी मांगने की बात की है। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह एक रैली को संबोधित कर रहे थे। जिसमें उन्होंने कहा कि क्या कांग्रेस, कम्युनिस्ट और ऐसे अन्य दल जो देश की जनता को इस तरह की राजनीति कर गुमराह कर रहे हैं वे माफी मांगने के लिए तैयार हैं।

इसके पूर्व उन्होंने हवाई अड्डे पर संवाददाताओं से कहा कि हेडली की गवाही से पाकिस्तान की करतूत सामने आई है। मगर इसके बाद भी सभी पाकिस्तान के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध बनाने की बात करते हैं। उल्लेखनीय है कि डेविड हेडली ने कहा था कि इशरत जहां लश्कर - ए - तैयबा की आतंकी थी।

गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश के लिए उसे आत्मघाती के तौर पर उपयोग किया गया था। इशरत 19 वर्ष की एक महाविद्यालयीन छात्रा थी, जो कि मुंब्रा क्षेत्र में रहती थी। 15 जून वर्ष 2004 को अहमदाबाद में हुई मुठभेड़ में उसकी मृत्यु हो गई थी।