हेलीकाप्टर घोटाला: वादा माफी गवाह बनना चाहते हैं सक्सेना, 2 मार्च को दर्ज कराएंगे बयान

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली की अदालत ने गुरुवार को 3,600 करोड़ रुपए के अगस्ता वेस्टलैंट हेलीकाप्टर मनी लॉन्ड्रिंग में राजीव सक्सेना को मजिस्ट्रेट के सामने दो मार्च को अपना बयान दर्ज कराने का आदेश दिया है। राजीव ने इस केस में वायदामाफ गवाह बनने के लिए अदालत के समक्ष याचिका दाखिल की है। विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने सक्सेना की याचिका दो मार्च को उनका बयान दर्ज कराने के लिए  मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पंहुचा दी है।

इन नए नियमों के तहत अब फ्लाइट कैंसल या लेट होने पर रिफंड होंगे पैसे

इससे पहले, सक्सेना ने कोर्ट से कहा था कि सहयोग न करने का उनका कोई आशय नहीं है और इस चरण में यह तर्कसंगत है कि वह अपनी गवाही बिना किसी पक्षपात के दें। सक्सेना ने आगे कहा है कि उन्होंने अपनी मर्जी से और मामले को अच्छी प्रकार से समझते हुए वादा माफी गवाह बनने का फैसला लिया है। उन्हें न तो किसी के द्वारा किसी प्रकार का कोई आश्वासन दिया गया है और न ही उन पर किसी तरह का दबाव है।

डॉलर के मुकाबले 1 पैसे की मजबूती के साथ 71.21 के स्तर पर खुला रुपया

उल्लेखनीय है कि अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले के 3,600 करोड़ रुपये से सम्बंधित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में आरोपी राजीव सक्सेना ने बुधवार को दिल्ली की एक कोर्ट में याचिका देकर सरकारी गवाह बनने की इच्छा व्यक्त की थी। सक्सेना को दुबई से भारत लाए जाने के बाद 31 जनवरी को कस्टीडी में लिया गया था। इस समय वे स्वास्थ्य कारणों से जमानत पर हैं। 

खबरें और भी:-  

पिछले दिनों गिरावट के बाद आज मजबूती के साथ खुले बाजार, फिलहाल ऐसी स्तिथि

HC से सोनिया राहुल को बड़ा झटका, खाली करना होगा हेराल्ड हाउस

वेस्टइंडीज के तूफानी खिलाड़ी ने फिर बरपाया कहर, लग गई रिकार्ड्स की झड़ी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -