रजनीकांत के निशाने पर आए तमिलनाडु के मुख्यमंत्री

साउथ सिनेमा इंडस्ट्री के मशहूर कलाकार रजनीकांत अक्सर ही अपनी फिल्मों को लेकर चर्चाओं में बने रहते हैं लेकिन इस बार वो अपने बयान के कारण सुर्ख़ियों में आ गए हैं. रजनीकांत ने तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके प्रमुख करुणानिधि के अंतिम संस्कार में शामिल न होने के लिए मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी और उनकी पूरी कैबिनेट को आड़े हाथों लिया है. रजनीकांत ने कहा कि पलानीस्वामी सहित उनकी पूरी कैबिनेट को करूणानिधि के अंतिम संस्कार में शामिल होना चाहिए था.

इस एक्ट्रेस ने रजनीकांत और हासन के साथ काम करने से किया साफ इंकार

मीडिया से बातचीत के दौरान अभिनेता ने कहा 'करूणानिधि को दफनाते समय कई सारे मुख्यमंत्री, राज्यपाल और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल हुए थे लेकिन इस दौरान मुख्यमंत्री को नहीं आना चाहिए था? उनके साथ ही क्या पूरी कैबिनेट को भी नहीं आना चाहिए था? जनता क्या सोचेगी?' इतना ही नहीं इस दौरान रजनीकांत ने एमजीआर या जयललिता पर भी निशाना साधते हुए कहा कि 'क्या आप एमजीआर या जयललिता हैं'. आपको बता दें एमजीआर या जयललिता को करूणानिधि का विरोधी माना जाता है.

B'day Spl : मिल वर्कर का बेटा आज है सुपरस्टार...

तमिलनाडु के कलाइग्नर के नाम से मशहूर करूणानिधि ने 7 अगस्त को अंतिम सांस ली थी. 94 की उम्र में करूणानिधि का कावेरी अस्पताल में निधन हो गया था. जिसके बाद उनके पार्थिव शरीर को चेन्नई के राजाजी हॉल अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था. मरीना बीच पर करूणानिधि की समाधी दी गई.

ख़बरें और भी...

करूणानिधि के निधन के बाद सत्ता को लेकर दोनों बेटे आमने-सामने

कौन होगा करूणानिधि का उत्तराधिकारी, 14 अगस्त को डीएमके करेगा बैठक

इस वजह से आगे बढ़ी ‘विश्वरुपम 2’ की रिलीज डेट

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -