राजेश टोपे का केंद्र पर आरोप, कहा- वैक्सीन सप्लाई में भेदभाव कर रही मोदी सरकार

Apr 08 2021 03:17 PM
राजेश टोपे का केंद्र पर आरोप, कहा- वैक्सीन सप्लाई में भेदभाव कर रही मोदी सरकार

मुंबई: महाराष्ट्र में कोरोना टीकाकरण को लेकर उद्धव सरकार और केंद्र सरकार के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। पिछले दो दिनों से जारी आरोप-प्रत्यारोप के बीच गुरुवार को महाराष्ट्र के हेल्थ मिनिस्टर राजेश टोपे ने एक बार फिर केंद्र पर पक्षपात करने का आरोप लगाया है। गुरुवार को स्वास्थय मंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र के मुकाबले गुजरात की जनसख्या आधी है, ऐसे में गुजरात को 1 करोड़ वैक्सीन उपलब्ध कराई गई, जबकि महाराष्ट्र को 1.04 लाख खुराक दी गई। यह भेदभाव नहीं तो और क्या है। 

उद्धव के मंत्री राजेश टोपे ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से प्रति माह 1.6 करोड़ वैक्सीन की मांग की है। उन्होंने कहा कि राज्य में प्रतिदिन 6 लाख लोगों को टीकाकरण किया जा रहा है। ऐसे में हमें हर हफ्ते 40 लाख वैक्सीन की आवश्यकता है।  बता दें कि बुधवार को महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा था कि उनके राज्य में केवल तीन दिन का वैक्सीन स्टॉक शेष है।

उन्होंने यह भी कहा कि कई टीकाकरण केंद्रों पर तो बगैर टीका दिए लोगों को वापस लौटा दिया गया है। टोपे के बयान के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने भी तीखी प्रतिक्रिया दी थी। हर्षवर्धन ने कहा था कि राज्य में कोरोना वैक्सीन की कमी नहीं है। सभी राज्यों को आवश्यकता के हिसाब से वैक्सीन भेजी जा रही है। हर्षवर्धन ने महाराष्ट्र  सरकार पर सियासत करने का आरोप भी लगाया था।  

 

बंगाल चुनाव: शिशिर अधिकारी बनेंगे गवर्नर ! भाजपा खेल सकती है मास्टर स्ट्रोक

कोरोना काल में जुटेंगे 1 लाख लोग, नई पार्टी लॉन्च करेंगी जगन रेड्डी की बहन शर्मीला

न्यूजीलैंड सरकार ने नए कोयला बॉयलरों पर प्रतिबंध लगाकर ख़त्म की अगले चरण की जलवायु कार्रवाई