दिल्ली में हुआ अब तक का सबसे बड़ा एनकाउंटर

दिल्ली में सबसे बड़े एनकाउंटर में क्रांति गैंग का सरगना राजेश भारती मारा गया. दिल्ली पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारे गए राजेश भारती पर अपनी मां के साथ मिलकर पिता की हत्या का आरोप लगा था. महज 15 साल की उम्र में उसने पहली हत्या अपने बाप की ही की थी. इसके बाद उसे जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया गया था.

इस अपराधी के गांव के लोग बताते हैं कि 10वीं का एग्जाम देने के लिए वो पुलिस कस्टडी में स्कूल आया था. इसके बाद में उसके चाचा ने अपने भाई का बदला लेने के लिए राजेश की मां की हत्या कर दी थी. इसके बाद राजेश भारती अपने छोटे भाई संदीप भारती व बहन को लेकर गुरुग्राम में रहने लगा और उसके बाद कभी गांव में नहीं आया  यहीं रहकर एक के बाद एक अपराधिक वारदातों को अंजाम देने लगा. राजेश ने दिल्ली एनसीआर में हत्या और लूट जैसी कई वारदातों को अपने गैंग के साथ मिलकर अंजाम तक पहुंचाया था.

फोन पर AK-47 से हत्या करने की धमकी देकर पैसे वसूलना उसका शौक था. गांव के सरपंच बताते हैं कि राजेश काफी होनहार था. स्पेशल सेल के अधिकारियों के मुताबिक मुठभेड़ में मारा गया कुख्यात बदमाश राजेश भारती पहले सीधा-साधा युवक था. बदमाशों के संपर्क में आकर बाद में उसने अपराध की दुनिया में कदम रख दिया.

अंडरवर्ल्ड डॉन का साथी महांकाल मंदिर से पकड़ा गया

काला हिरण के बाद सुअर का शिकार करने पहुंचे सैफ अली खान, दर्ज हुई शिकायत

जानिए होटल में किसी की मौत के बाद क्या होता है

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -