राजस्थान में छात्र संघ चुनाव के लिए हलचल शुरू, एबीवीपी और एनएसयूआई में मुख्य मुकाबला

Aug 13 2019 05:00 PM
राजस्थान में छात्र संघ चुनाव के लिए हलचल शुरू, एबीवीपी और एनएसयूआई में मुख्य मुकाबला

बाड़मेर: राजस्थान में कॉलेज में छात्र संघ के चुनाव को लेकर उलटी गिनती शुरू हो गई है. आलम यह है कि राजस्थान के बाड़मेर जिला मुख्यालय में बाड़मेर जिले के सबसे बड़े कॉलेज में एबीवीपी ने पहले बाजी मारते हुए अपने पैनल का ऐलान कर दिया है. वहीं एनएसयूआई ने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं, किन्तु इस बार का चुनाव बेहद खास होने वाला है, ऐसा इसलिए क्योंकि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है तो वहीं हाल ही में मोदी ने लोकसभा चुनाव में जोरदार तरीके से डंका बजाया था अब छात्र संघ चुनाव देखना बेहद खास होगा.

बाड़मेर के पीजी कॉलेज में छात्रसंघ चुनावो का शंखनाद हो चुका है. आगामी 27 अगस्त को होने वाले चुनावों के लिए कॉलेज के स्टूडेंट्स जहां जोश में है वहीं चुनावों को लेकर केम्पस में भी खलबली मची हुई है. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने जहां कमला चौधरी को अध्यक्ष पद के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है. वहीं दूसरी ओर एनएसयूआई ने दीपेंद्र जाखड़ को अध्यक्ष पद के लिए प्रत्याशी बनाया है. 

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और एनएसयूआई दोनों ने ही शेष पैनल का ऐलान नहीं किया है. शेष पदों पर दोनों छात्र संगठन जल्द ही उम्मीदवार घोषित करेंगे. बाड़मेर के पीजी कॉलेज में छात्रसंघ चुनावो में काफी समय बाद अध्यक्ष पद के लिए एक छात्रा को उम्मीदवार बनाया है. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने अध्यक्ष पद के लिए कमला चौधरी को मैदान में उतारा है.

सेंसेक्स में 600 अंकों की भारी गिरावट, कई बड़े शेयर गिरे

एतिहाद ने जेट एयरवेज में निवेश बढ़ाने से किया इनकार

भारत में मिलता है इस शख्स को सबसे अधिक वेतन