राजस्थान: कांग्रेस की मीटिंग के दौरान पायलट समर्थक बोले- सचिन बने CM

जयपुर: राजस्थान में गहलोत मंत्रिमंडल विस्तार की कवायद अब तेज गति से होते हुए नजर आ रही है। अब इसी बीच राजस्थान के पीसीसी अध्यक्ष और शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने आज यानी रविवार को एक अर्जेंट बैठक बुलाई। इस दौरान बैठक के शुरू होने से पहले ही पायलट गुट के समर्थकों ने हंगामा करना आरम्भ कर दिया। जी दरसल सभी समर्थक राजस्‍थान के पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट को सीएम अशोक गहलोत की जगह नया सीएम बनाने की मांग कर रहे हैं। आपको हम यह भी बता दें कि, 'पंजाब कांग्रेस का विवाद सुलझने के बाद अब हाईकमान ने राजस्थान को लेकर कवायद तेज कर दी है।'

इन सभी के बीच अशोक गहलोत मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर राजस्‍थान कांग्रेस के प्रभारी अजय माकन और कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल बीते शनिवार को CM से चर्चा के बाद आज करीब दोपहर 12 बजे दिल्‍ली के लिए रवाना हो गए हैं। कुछ सूत्रों का कहना है कि, राजस्‍थान के कुछ मौजूदा मंत्रियों का पत्ता कटेगा, तो पायलट कैंप को जगह मिलेगी। वहीं इन सभी फैसलों का ऐलान कांग्रेस हाईकमान की अनुमति के बाद ही किया जाएगा।आपको हम यह भी बता दें कि राजस्थान मंत्रिमंडल के मौजूदा हिसाब से गहलोत सरकार में 9 और मंत्री बनाए जा सकते हैं। वहीं मिली जानकारी के तहत राजस्‍थान के प्रभारी अजय माकन और संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल आज मंत्रिमंडल में फेरबदल के बाद अंतिम नामों की सूची लेकर दिल्‍ली लौट गए हैं।

इसके बाद वह कांग्रेस की अंतिरम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे। कुछ सूत्रों का कहना है कि सोनिया गांधी ही मंत्रिमंडल के पुनर्गठन की सूची पर अन्तिम फैसला लेंगे। केवल यही नहीं बल्कि सोनिया गांधी की हरी झंडी के बाद ही मुख्यमंत्री अशोक मंत्रिमंडल फेरबदल के लिए तारीख तय करेंगे। कुछ सूत्रों का कहना है कि अशोक गहलोत मंत्रिमंडल का इसी सप्ताह विस्तार हो सकता है।

आज होगा पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में विधानसभा चुनाव, लाखों लोग करेंगे मतदान

टोक्यो ओलंपिक में देश का नाम रोशन करने वाली मीराबाई चानू को मिलेंगे 1 करोड़ नकद, सरकार ने किया ऐलान

बोज़ान्ना हिल के लिए बढ़ रहा खनन का खतरा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -