शिक्षक की पिटाई से दलित छात्र की मौत, कसूर- घड़े से पानी पी लिया था

जयपुर: राजस्थान के जालोर जिले में 9 वर्षीय दलित बच्चे के घड़ा से पानी पीने से आगबबूला हुए टीचर ने उसे इतना पीटा कि उसके कान की नस फट गई। अहमदाबाद के एक अस्पताल में उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। मारपीट करने वाले शिक्षक को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है। राजस्थान सरकार ने मृतक बच्चे के परिवार को 5 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। इसके साथ ही इलाके में तनाव बढ़ने के बाद जालोर में 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवाएं स्थगित कर दी गई हैं। 

यह घटना 20 जुलाई की है, जब राजस्थान में ऐसी गर्मी पड़ रही थी, जब लोगों को प्यास बुझाने के लिए ठंडा पानी भी मुश्किल से मिलता है। ऐसे में राजस्थान के जालोर में रोज की तरह एक 9 वर्षीय दलित बच्चा स्कूल में पढ़ने के लिए गया था। उसका कसूर बस इतना था कि उसे जब प्यास लगी तो उसने घड़े से पानी पी लिया। बताया जा रहा है कि वह घड़ा शिक्षक ने अपने लिए अलग से रखवाया था। निजी घड़े से दलित बच्चे के पानी पीने से खफा टीचर ने उसे बुरी तरह पीट डाला। निर्दयी शिक्षक ने उसे तब तक पीटा जब तक कि उसके कान की नस नहीं फट गई और आंख में चोट नहीं लग गई।

जालोर के सायला उपखंड क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सुराणा गांव के सरस्वती विद्या मंदिर में पढ़ने वाला बच्चा इंद्र कुमार तीसरा कक्षा का छात्र था। शिक्षक की मारपीट के बाद बच्चे की तबीयत अधिक खराब होने पर उसे अस्पताल में एडमिट कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई। इस घटना को लेकर बच्चे के चाचा किशोर कुमार ने सायला पुलिस थाने में मारपीट करने और जातिसूचक शब्दों से अपमानित करने व मारपीट के बाद छात्र की हत्या का केस दर्ज कराया है। जब बच्चे ने इस बारे में पिता को बताया, तो उन्होंने चुराना के मेडिकल स्टोर से दवाई लाकर दे दी, मगर जब दर्द असहनीय हो गया, तो उसे उपचार के लिए उदयपुर के बागोड़ा भीनमाल मेहसाणा अस्पताल लेकर गया। 

यहां से रेफर किए जाने के बाद अहमदाबाद के सिविल अस्पताल ले जाया गया, मगर उपचार के दौरान 13 अगस्त को ही उसने दम तोड़ दिया। बच्चे के पिता देवाराम मेघवाल ने बताया कि मेरा बच्चा सरस्वती स्कूल सुराणा में पढ़ता था। उसने पानी पीने के लिए मटके को छुआ तो शिक्षक छैलसिंह ने उसे बेरहमी से पीटा, जिससे उसके कान की नस फट गई। अहमदाबाद के अस्पताल में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। जालोर के पुलिस अधीक्षक हर्षवर्द्धन अग्रवाल ने कहा कि बच्चे को बेरहमी से पीटा गया था। हालांकि घड़े से पानी छूने के लिए उसे पीटा, ये जांच का विषय है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि हमने अध्यापक छैल सिंह को अरेस्ट कर लिया है और उसके खिलाफ IPC की धारा 302 और एससी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। 

महिला के साथ बर्बरता करने वाले 06 आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

VIDEO! जरा सी गाड़ी टच होने पर भड़की महिला, 90 सेकंड में जड़ दिए 17 थप्पड़

8 साल की बच्ची के साथ मुखिया के पति ने की हैवानियत, लहूलुहान हालत में देख काँप गई माँ

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -