योगी पर राज ठाकरे का पलटवार, कहा- बिना अनुमति महाराष्ट्र नहीं आना चाहिए प्रवासी मजदूर

योगी पर राज ठाकरे का पलटवार, कहा- बिना अनुमति महाराष्ट्र नहीं आना चाहिए प्रवासी मजदूर

मुंबई: भले ही पूरे देश में कोरोना वायरस का कहर कम नहीं हो रहा हो, किन्तु दूसरी ओर राजनेता पूरे मामले में सियासत करने से भी नहीं चूक रहे। इस अतिसंवेदनशील मौके पर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने मजदूरों को लेकर बयान दिया था, जिसके बाद अब महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राज ठाकरे ने तीखा पलटवार किया है।

मनसे चीफ राज ठाकरे ने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ भी यह बात ध्यान रख लें कि प्रवासियोंको अब महाराष्ट्र आने से पहले अनुमति लेनी चाहिए, इसके साथ ही राज ठाकरे ने उद्धव सरकार से एक आग्रह भी किया। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार को पुलिस स्टेशन में प्रवासी श्रमिकों का रिकॉर्ड बनाना चाहिए, जिसमें उनकी तस्वीर भी छपी हो। दरअसल, इससे पहले सीएम योगी ने कहा था कि यदि दूसरे राज्य चाहते हैं कि यहां के मजदुर उनके यहां काम करें तो इसके लिए पहले उन्हें प्रदेश सरकार से इजाजत लेनी होगी।

दरअसल, सीएम योगी ने इस बात पर दुख जताया था कि कोरोना वायरस की वजह से लगाए गए लॉकडाउन के दौरान कई राज्यों ने प्रवासी कामगारों का 'उचित तरीके से ध्यान नहीं' रखा, उन्होंने रविवार को कहा था कि जो भी प्रदेश चाहता है कि यूपी के प्रवासी कामगार उनके यहां वापस आएं, उन्हें राज्य सरकार से इसकी अनुमति लेनी होगी और उन कामगारों के सामाजिक, कानूनी और आर्थिक अधिकार सुनिश्चित करने होंगे।

फेम इंडिया मैगजीन ने जारी की '50 प्रभावशाली भारतीय 2020' की सूची, पहले स्थान पर है PM मोदी

चुनाव हारने का रिकॉर्ड बना चुका है यह उम्मीदवार, लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज है नाम

हांगकांग में फिर बवाल, चीन सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग